राष्ट्रीय

कोरोना संकट के मद्देनजर 16 और 17 जून को मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक करेंगे पीएम मोदी

17 जून को दोपहर 3 बजे कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित हुए राज्यों के सीएम से करेंगे बातचीत

नई दिल्ली: 16 जून को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ऐसे राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग करेंगे, जहां कोरोना की रफ्तार धीमी है या जहां कोरोना मरीजों की रिकवरी रेट काफी अच्छी है. इन राज्यों में पंजाब, असम, केरल, उत्तराखंड, कर्नाटक और झारखंड जैसे कई राज्य शामिल हैं.

वहीँ 17 जून को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उन राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक करेंगे, जिन राज्यों में कोरोना वायरस के संक्रमण की रफ्तार काफी ज्यादा है. 17 जून को पीएम नरेंद्र मोदी महाराष्ट्र, तमिलनाडु, दिल्ली, गुजरात और राजस्थान समेत अन्य राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बात करेंगे.

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए 16 जून को प्रधानमंत्री दोपहर 3 बजे 21 राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ कोरोना से निपटने को लेकर चर्चा करेंगे. वहीं, 17 जून को दोपहर 3 बजे कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित हुए राज्यों के सीएम से बातचीत करेंगे. अनलॉक-1 के बाद ये प्रधानमंत्री की पहली बैठक है. इससे पहले पीएम मोदी 5 बार बैठक कर चुके हैं.

वहीं, बैठक से पहले कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने कहा कि हम पीएम से कल लॉकडाउन में और ढील देने की मांग करेंगे. उन्होंने कहा कि लॉकडाउन को बढ़ाने का कोई प्लान नहीं है, यहां तक की वीकेंड में भी लॉकडाउन नहीं लागू किया जाएगा.

मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने कहा कि कर्नाटक में अधिकतर दूसरे प्रदेश से आए लोग कोरोना संक्रमित मिले हैं. हमें इन लोगों के लिए क्वारनटीन के नियम खत्म करने की जरूरत है. महाराष्ट्र से आने वाले लोगों को 7 दिन इंस्टीट्यूशनल क्वारनटीन और 7 दिन होम क्वारनटीन किया जाएगा. दिल्ली और तमिलनाडु से आने वाले लोगों के लिए अलग व्यवस्था की जाएगी.

28 जून को मन की बात…

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने मासिक रेडियो कार्यक्रम मन की बात में चर्चा के लिए लोगों से सुझाव मांगे हैं. इस बार मन की बात कार्यक्रम 28 जून को होगा. प्रधानमंत्री ने ट्वीट कर लोगों से अपील की है कि वे अपने आइडिया और इनपुट भेजें.

Tags
Back to top button