राष्ट्रीय

कल बनारस पहुंचेंगे PM मोदी, सभी कार्यक्रमों में CM योगी भी होंगे शामिल

प्रधानमंत्री सारनाथ पुरातत्व परिसर में लाइट एण्ड साउण्ड शो का अवलोकन भी करेंगे।

लखनऊ (डीवीएनए)। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी कल 30 नवम्बर, 2020 को अपने लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र वाराणसी का भ्रमण करेंगे। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ प्रधानमंत्री मोदी के समस्त कार्यक्रमों में सम्मिलित होंगे।

वाराणसी भ्रमण के अवसर पर प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या-2 के हण्डिया-राजा तालाब खण्ड का 6-लेन चैड़ीकरण कार्य राष्ट्र को समर्पित करेंगे। वे श्री काशी विश्वनाथ मन्दिर धाम परियोजना स्थल भी जाएंगे। प्रधानमंत्री राजघाट, वाराणसी में आयोजित ‘देव दीपावली’ महोत्सव में सम्मिलित होंगे तथा लेज़र शो भी देखेंगे। प्रधानमंत्री सारनाथ पुरातत्व परिसर में लाइट एण्ड साउण्ड शो का अवलोकन भी करेंगे।

हण्डिया-राजा तालाब मार्ग का 6-लेन चैड़ीकरण एक अत्यन्त महत्वपूर्ण परियोजना है, जो दो प्राचीनतम एवं पवित्र नगरों-प्रयाग (प्रयागराज) तथा काशी (वाराणसी) को आपस में जोड़ती है। यह राजमार्ग स्वर्णिम चतुर्भुज परियोजना-1 (दिल्ली-कोलकाता काॅरिडोर) का भी प्रमुख भाग है। पूर्व में, प्रयागराज से वाराणसी के मध्य यात्रा में लगभग साढ़े तीन घण्टे का समय लगता था। इस परियोजना के पूर्ण होने के पश्चात प्रयागराज से वाराणसी के मध्य मात्र डेढ़ घण्टे का समय यात्रा में लगेगा। इस परियोजना की लागत 2,447 करोड़ रुपए है।

ज्ञातव्य है कि अनेक व्यस्तताओं के बावजूद प्रधानमंत्री ने वाराणसी के विकास के लिए हमेशा समय निकाला है। अपने निर्वाचन क्षेत्र के विकास के लिए प्रधानमंत्री सदैव संवेदनशील रहते हैं। कोरोना कालखण्ड में भी उन्होेंने इसी माह वर्चुअल माध्यम से जनपद वाराणसी की 614 करोड़ रुपए की विभिन्न परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया।
प्रधानमंत्री की प्रतिबद्धता के फलस्वरूप काशी की विकास यात्रा निरन्तर आगे बढ़ रही है। मुख्यमंत्री नियमित तौर पर विकास परियोजनाओं की समीक्षा एवं स्थलीय निरीक्षण करते हैं। विगत लगभग साढ़े 6 वर्षों में 18,000 करोड़ रुपए से अधिक की परियोजनाओं के माध्यम से वाराणसी का विकास कराया गया है। प्रधानमंत्री के मार्गदर्शन में काशी की पुरातन काया को नया कलेवर देने के लिए अनेक विकास योजनाएं संचालित की जा रही हैं। वाराणसी के समग्र विकास से पूर्वांचल सहित पूर्वी भारत को लाभ हो रहा है।

विगत लगभग साढ़े 6 वर्षों में वाराणसी में हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर को सुदृढ़ करने के लिए अभूतपूर्व कार्य हुए हैं। वाराणसी पूरे पूर्वांचल के लिए स्वास्थ्य सुविधाओं का हब बन रहा है। काशी हिन्दू विश्वविद्यालय के महामना पण्डित मदन मोहन मालवीय कैंसर सेण्टर तथा लहरतारा स्थित होमी भाभा कैंसर हाॅस्पिटल द्वारा जनता को सेवा प्रदान की जा रही है। बी0एच0यू0 में सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल, 150 शैय्या का सुपर स्पेशियलिटी ई0एस0आई0सी0 अस्पताल बना है। आयुर्वेदिक काॅलेज का निर्माण, जिला महिला चिकित्सालय में 100 शैय्या की मैटरनिटी विंग की स्थापना आदि के कार्य हुए। रामनगर में श्री लाल बहादुर शास्त्री चिकित्सालय को उच्चीकृत किया गया है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button