राहुल गाँधी के आँख मारने का कुछ इस अंदाज़ में PM मोदी ने दिया जवाब

सदन में कल का दृश्य जो टेलीविजन में देखा गया वो सभी के लिए बेहद आश्चर्य जनक रहा अविश्वास प्रस्ताव पर बहस के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को गले मिलकर सभी को चौंका दिया।पीएम ने राहुल पर निशाना साधते हुए कहा कि सुबह में बहस भी पूरी नहीं हुई। वोटिंग भी खत्म नहीं हुई, जय पराजय का फैसला भी नहीं हुआ।

एक सदस्य दौड़ते हुए कहने लगे उठो, उठो, उठो…. सत्ता में आने की इतनी जल्दबाजी क्यों है। इस कुर्सी पर सिर्फ 125 करोड़ देशवासी बैठा सकते हैं और 125 करोड़ देशवासी ही उठा सकते है।पीएम यही नहीं रूके उन्होंने व्यंग्यात्मक लहजे में कहा कि वह गरीब और पिछड़ी जाति के व्यक्ति हैं इसलिए वह आंख में आंख डालकर बात करने की हिमाकत कैसे कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि आप तो नामदार हैं और हम कामगार। भला हम कैसे आंख मिला सकते हैं।

राहुल का गले लगाना ही नहीं बल्कि अपनी सीट पर बैठे हुए आंख मारना भी खूब चर्चा का विषय बना हुआ है। वहीं पीएम मोदी ने भी अपने ही अंदाज में राहुल गांधी को इसका जवाब दिया। मोदी ने तंज कसते हुए कहा कि आज पूरा देश देख रहा था टीवी पर आंखों का खेल। कैसे आखें खोली जा रही हैं, कैसे बंद की जा रही हैं।

मोदी ने आगे कहा कि सुभाष चंद्र बोस ने कांग्रेस के आंख में आंख मिलाने की हिमाकत की, मोरारजी देसाई और चौधरी चरण सिंह तथा प्रणव मुखर्जी ने आंख में आंख डालने की हिम्मत की। शरद पवार ने यह हिम्मत दिखाई और सभी के हश्र क्या हुआ, पूरी दुनिया जानती है। उन्होंने कहा कि आंखों में आंख डालकर बात करने वाले की हरकतें पूरे देश ने देखी है।

Back to top button