विश्व भारती के दीक्षांत समारोह में छात्रों से बोले पीएम- आप एक समृद्ध विरासत के वारिस हैं

नई दिल्ली: विश्व भारती विश्वविद्यालय के 49 वें दीक्षांत समारोह के लिए मंच तैयार है और इसमें शिरकत करने के लिए पीएम नरेंद्र मोदी शांति निकेतन पहुंच चुके हैं. शांति निकेतन पर पीएम मोदी के पहुंचते ही पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने उन्हें गुलदस्ता देकर और शॉल भेंटकर उनका स्वागत किया. इससे पहले पीएम मोदी के कोलकाता पहुंचने पर राज्यपाल केसरी नाथ त्रिपाठी और केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो ने स्वागत किया. बताया जा रहा है कि दीक्षांत समारोह में शेख हसीना भी शिरकत करने के लिए पहुंच गई हैं.

शांति निकेतन में पीएम मोदी

– Culture हो या फिर Public Policy हम एक दूसरे से बहुत-कुछ सीखते हैं. इसी का एक उदाहरण बांग्लादेश भवन है: पीएम मोदी
– यहां हमारे बीच में बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना जी भी मौजूद हैं. भारत और बांग्लादेश दो राष्ट्र हैं, लेकिन हमारे हित एक दूसरे के साथ समन्वय और सहयोग से जुड़े हैं: पीएम मोदी
– मैं जब मंच की तरफ आ रहा था, तो ये सोच रहा था कि कभी इसी भूमि पर गुरुदेव के कदम पड़े होंगे। यहां कहीं आसपास बैठकर उन्होंने शब्दों को कागज पर उतारा होगा, कभी कोई धुन, कोई संगीन गुनगुनाया होगा, कभी महात्मा गांधी से लंबी चर्चा की होगी, कभी किसी छात्र को जीवन का मतलब समझाया होगा: पीएम मोदी
– ये मेरा सौभाग्य है कि गुरुदेव रबिन्द्रनाथ टैगोर की इस पवित्र भूमि में इतने आचार्यों के बीच मुझे आज कुछ समय बिताने का समय मिला है : पीएम मोदी
– यहां मैं एक अतिथि नहीं बल्कि एक आचार्य के नाते आपके बीच में आया हूं. यहां मेरी भूमिका इस महान लोकतंत्र के कारण है: पीएम मोदी.
-पीएम मोदी ने छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि आप एक समृद्ध विरासत के वारिस हैं.
– विदेशों में गुरुदेव को सम्मान के साथ याद किया जाता है.
– हमारे हाथ कल्चर और दोस्ती से जुड़े हुए हैं.
– पीएम मोदी ने कहा कि विश्व भारती विश्वविद्याल के कुलपति होने के नाते सबसे पहले मैं आपसे माफी मांगता हूं. जैसे ही मैं यहां आया, कुछ छात्रों में पानी की उचित व्यवस्था न होने के लिए नाराजगी जाहिर की, आपको हुई परेशानी को लेकर मैं क्षमा मांगता हूं.
-पीएम मोदी और बांग्लादेशी पीएम शेख हसीना साथ में
-पीएम नरेंद्र मोदी और बांग्लादेश की पीएम शेख हसीना शांति निकेतन पहुंच चुके हैं. दीक्षांत समारोह के बाद दोनों बांग्लादेश भवन का उद्घाटन करेंगे.
-पीएम मोदी का सीएम ममता बनर्जी ने किया जोरदार स्वागत

पीएम मोदी केंद्रीय विश्वविद्यालय के ‘आचार्य’ या कुलाधिपति हैं. संस्थान के अधिकारियों ने बताया कि प्रधानमंत्री कल हसीना के साथ भारत और बांग्लादेश के सांस्कृतिक संबंधों के प्रतीक ‘ बांग्लादेश भवन’ का उद्घाटन करेंगे और वहां एक द्विपक्षीय बैठक करेंगे. पुलिस ने बताया कि पश्चिम बंगाल के बीरभूम जिले के बोलपुर उपसंभाग में स्थित शांतिनिकेतन में बहुस्तरीय सुरक्षा व्यवस्था की गयी है.

मोदी और हसीना के अलावा समारोह में पश्चिम बंगाल के राज्यपाल के एन त्रिपाठी एवं मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भी शामिल होंगी. कुलपति के मुताबिक पिछले चार दशकों में पहली बार राज्य का कोई मुख्यमंत्री दीक्षांत समारोह में शामिल होगा. आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक बांग्लादेश के करीब 150 प्रतिनिधि दीक्षांत समारोह और ‘ बांग्लादेश भवन ’ के उद्घाटन के लिए आज यहां आएंगे. दोनों देशों के प्रधानमंत्री उद्घाटन कार्यक्रम के खत्म होने के बाद दोपहर एक बजे बैठक करेंगे.

advt
Back to top button