प्रधानमंत्री गुरुवार को टॉयकैथॉन-2021 के प्रतिभागियों से करेंगे संवाद

इस मौके पर केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक भी मौजूद रहेंगे।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी गुरुवार को टॉयकैथॉन-2021 के प्रतिभागियों से संवाद करेंगे। 22 से 24 जून तक आयोजित होने वाले तीन दिवसीय ऑनलाइन टॉयकैथॉन ग्रैंड फिनाले के लिए कुल 1,567 विचारों को शॉर्टलिस्ट किया गया है। प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) ने मंगलवार को बताया कि प्रधानमंत्री मोदी 24 जून को सुबह 11 बजे टॉयकैथॉन-2021 के प्रतिभागियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बातचीत करेंगे। इस मौके पर केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक भी मौजूद रहेंगे।

टॉयकैथॉन-2021 को संयुक्त रूप से शिक्षा मंत्रालय, महिला और बाल विकास विभाग (डब्ल्यूसीडी) मंत्रालय, सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम (एमएसएमई) मंत्रालय, उद्योग एवं आंतरिक व्यापार संवर्धन विभाग (डीपीआईआईटी), कपड़ा मंत्रालय, सूचना और प्रसारण मंत्रालय और अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद (एआईसीटीई) द्वारा 5 जनवरी को क्राउड-सोर्स इनोवेटिव टॉयज और गेम्स आइडियाज के लिए लॉन्च किया गया था।

देशभर से 1.2 लाख प्रतिभागियों ने लिया था हिस्सा

इस दौरान, देशभर से लगभग 1.2 लाख प्रतिभागियों ने टॉयकैथॉन-2021 के लिए 17000 से अधिक विचारों को पंजीकृत और प्रस्तुत किया, जिनमें से 1567 विचारों को 22 जून से 24 जून तक आयोजित होने वाले तीन दिनों के ऑनलाइन टॉयकैथॉन ग्रैंड फिनाले के लिए शॉर्टलिस्ट किया गया है। कोविड -19 प्रतिबंधों के कारण, इस ग्रैंड फिनाले में डिजिटल टॉय आइडिया वाली टीमें होंगी, जबकि नॉन-डिजिटल टॉय कॉन्सेप्ट के लिए एक अलग फिजिकल इवेंट आयोजित किया जाएगा।

क्या है टॉयकैथॉन?

टॉयकैथॉन, भारत के घरेलू बाजार के साथ-साथ वैश्विक खिलौना बाजार हमारे विनिर्माण क्षेत्र के लिए एक बड़ा अवसर प्रदान करता है। टॉयकैथॉन-2021 का उद्देश्य भारत में खिलौना उद्योग को बढ़ावा देना है, ताकि खिलौना बाजार के व्यापक हिस्से पर भारत अग्रणी हो सके। टॉयकैथॉन 2021 को तीन श्रेणियों में बांटा गया था। टॉयकैथॉन-2021 को जूनियर, सीनियर और स्टार्टअप की तीन श्रेणियों में बांटा गया था। इसमें स्‍कूल, कॉलेज से लेकर यूनिवर्सिटी के स्‍टूडेंट्स तक हिस्‍सा ले सकते थे। जानकारी के लिए बता दें कि देश के खिलौना बाजार का आकार 1 अरब डॉलर से ज्‍यादा है, जिसमें से 80 फीसदी टॉयज आयात किए जाते हैं। टॉयकैथॉन सरकार की और से घरेलू खिलौना उद्योग और स्थानीय निर्माताओं के लिए एक सिस्‍टम बनाने का प्रयास है, जो इस्‍तेमाल नहीं हो पाए संसाधनों का दोहन कर घरेलू उद्योग को बढ़ावा दे सके।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button