आज अजमेर दौरे पर पीएम मोदी, गौरव यात्रा के समापन समारोह को करेंगे संबोधित

प्रधानमंत्री ब्रह्मा मंदिर के दर्शन के बाद कार्यक्रम स्थल पर आयेंगे

नई दिल्ली :

आगामी लोकसभा चुनाव 2019 के मद्देनजर आज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अजमेर का दौरा करेंगे । वहाँ पर प्रधानमंत्री मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे की गौरव यात्रा के समापन समारोह को संबोधित करेंगे।

भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष मदन लाल सैनी ने बुधवार को संवाददाताओं से बातचीत में बताया कि प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनावों से पूर्व प्रधानमंत्री की यह रैली ऐतिहासिक होगी।

प्रदेश के 14 जिलों और 26 विधानसभाओं पर ज्यादा फोकस कर, अधिक से अधिक कार्यकर्ताओं से इस रैली में आने का आग्रह किया गया है। इसमें करीब तीन लाख कार्यकर्ताओं के भाग लेने की उम्मीद है।

उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री छह अक्टूबर को ब्रह्मा मंदिर के दर्शन के बाद कार्यक्रम स्थल पर आयेंगे। उसके बाद जयपुर से वह दिल्ली जायेंगे।

सैनी ने बताया कि मृख्यमंत्री की गौरव यात्रा का शुभारंभ गत चार अगस्त को भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने चारभुजा से किया था। भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष सैनी ने बताया कि गौरव यात्रा के समापन के अवसर पर छह अक्टूबर को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अजमेर में कार्यकर्ताओं को प्रदेश में होने वाले चुनावों के संबंध में मार्गदर्शन देंगे।

उन्होंने बताया कि राज्य सरकार और केन्द्र सरकार की विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं को लागू करने के कारण राजस्थान में मुख्यमंत्री की जनसभाओं में जनसैलाब उमड़ा है। भरतपुर में गौरव यात्रा नहीं जाने के सवाल पर सैनी ने बताया कि भरतपुर संभाग में मुख्यमंत्री समय निकाल कर जनसंवाद करेगी।

उन्होंने कहा कि चुनाव और संगठन की दृष्टि से भाजपा अध्यक्ष अमित शाह का प्रदेश में आखिरी प्रवास चार अक्टूबर को सीकर, झुंझुनूं और चूरू संभाग में होगा। शाह सीकर में शक्ति केन्द्र के प्रमुखों से मिलेंगे, बीकानेर में अजा कार्यकर्ताओं के सम्मेलन में हिस्सा लेंगे,

शक्ति केन्द्र के कार्यकर्ताओं से बातचीत करेंगे और रात्रि विश्राम बीकानेर में करेंगे। उन्होंने बताया कि प्रदेश में चुनावों के दौरान प्रधानमंत्री और भाजपा के अध्यक्ष अमित शाह के दौरे के लिये दो-तीन लोकसभाओं का एक क्लस्टर बनाया गया है।

देश में आंदोलन और हड़ताल कर रहे विभिन्न कर्मचारियों के सवाल पर उन्होंने कहा कि कर्मचारियों की समस्याओं का समाधान होना चाहिए। इसके लिये एक समिति बनाई गई है जिसे दो-तीन दिन में रिपोर्ट देने का आग्रह किया गया है।

एक अन्य सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि गंदे नाले का पुनरूद्वार कर जयपुर की महत्वाकांक्षी योजना द्रव्यवती नदी के सफल कार्यान्वयन के लिये सरकार बधाई की पात्र है। द्रव्यवती नदी का जो काम बाकी है, उसे भी पूरा किया जायेगा।

Back to top button