राष्ट्रीय

लाल किले में महिला टीम की तैनाकी, पीएम मोदी की करेंगे सुरक्षा

पीएम की सुरक्षा में 36 विमन कॉन्स्टेबल को 15 महीने की ट्रेनिंग दी गई है।

नई दिल्ली : 15 अगस्त में आतंकियों के हरकतों के मद्देनजर इस बार जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पुरे देश को संबोधित कर रहे होंगे तो वही उनकी सुरक्षा में ‘पावर आफ वुमेन कमांडो’ की महिला टीम, एसपीजी और लोकल पुलिस के जवान दस्ता भी तैनात होगा। दिल्ली पुलिस का यह कमांडो दस्ता देश की किसी भी स्टेट पुलिस में पहला दस्ता है।

शुक्रवार को गृह मंत्री राजनाथ सिंह इस स्पेशल वुमेन कमांडो को दिल्ली की जनता की सुरक्षा में तैनात करेंगे। पुलिस कमिश्नर अमूल्य पटनायक की देखरेख में बनाए गए इस विशेष दस्ते में 36 विमन कॉन्स्टेबल को 15 महीने की ट्रेनिंग दी गई है।

आमतौर पर कमांडो ट्रेनिंग 12 महीने की होती है। यह दस्ता मेल कमांडो से भी अधिक ट्रेंड है। इन्हें एनएसजी की भी कमांडो ट्रेनिंग दिलाई गई है। इनमें अभी दिल्ली पुलिस में भर्ती हुई देशभर से विमन कॉन्स्टेबल में से असम से 13,

मणिपुर से 5, अरुणाचल प्रदेश से 5, सिक्किम से 5, मेघालय से 4, नगालैंड से 2 और मिजोरम व त्रिपुरा से 1-1 कॉन्स्टेबल ली गई हैं। फिलहाल इन्हें राजपथ और विजय चौक पर तैनात किया जाएगा। इनकी ट्रेनिंग पीटीसी झड़ौदा कलां और मानेसर में हुई है।

यह सब बख्तरबंद गाड़ियों में तैनात होंगी। इस गाड़ी को भी विमन कमांडो चलाएंगी। सारी कमांडो बम को भी डिफ्यूज करने में सक्षम है। इन्हें दिल्ली पुलिस के पराक्रम बेड़े की ही कमांडो से कहीं अधिक ट्रेंड किया गया है। दिल्ली पुलिस का कहना है कि वर्तमान में देश की किसी भी राज्य पुलिस की पास इस स्टैंडर्ड का विमन कमांडो दस्ता नहीं है।

Summary
Review Date
Reviewed Item
लाल किले में महिला टीम की तैनाकी, पीएम मोदी की करेंगे रक्षा
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags
jindal