राष्ट्रीय

पीएनबी मामला : मेहुल चौकसी ने कहा मैंने,कुछ गलत नही किया

पीएनबी फ्रॉड में फंसे मेहुल चौकसी ने अपने कर्मचारियों को एक लेटर लिखकर अपनी सफाई दी है। मेहुल ने लेटर में कहा है कि‍ उन्होंने कुछ भी गलत नहीं किया है और अंत में जीत सच्चाई की ही होगी

पीएनबी फ्रॉड में फंसे मेहुल चौकसी ने अपने कर्मचारियों को एक लेटर लिखकर अपनी सफाई दी है। मेहुल ने लेटर में कहा है कि‍ उन्होंने कुछ भी गलत नहीं किया है और अंत में जीत सच्चाई की ही होगी। शनिवार को मेहुल के वकील संजय एबट ने लेटर को रिलीज किया। गौरतलब है कि‍ हीरा कारोबारी नीरव मोदी और गीतांजलि जेम्स के मालिक मेहुल चौकसी 11,356 करोड़ के पीएनबी बैंक फ्रॉड में आरोपी हैं। इन लोगों पर पीएनबी के अफसरों से मिलिभगत कर फर्जी लेटर ऑफ अंडरटेकिंग्स (LoUs) के जरिए विदेशी अकाउंट्स में कई हजार करोड़ की रकम ट्रांसफर करने का आरोप है।

[responsivevoice_button voice=”Hindi Female” buttontext=”अगर आप पढ़ना नहीं
चाहते तो क्लिक करे और सुने”]


मेहुल ने लेटर में क्या लिखा

मेहुल ने लेटर में कहा, ‘मैं अपनी नियति के लिए तैयार हूं। मैं जानता हूं कि मैंने कुछ भी गलत नहीं किया और अंत में जीत सच्चाई की ही होगी।”
‘जिस तरह से कई सारी जांच एजेंसियों/सरकारी एजेंसियों ने हमारी कंपनियों को बंद कराने के लिए तबाही मचाना शुरू किया है, उससे मुझे बहुत सारी दिक्कतों का सामना कर पड़ रहा है।’

नीरव मोदी ने पीएनबी मैनेजमेंट को लिखा था लेटर

इससे पहले नीरव मोदी ने पीएनबी मैनेजमेंट और अपने कर्मचारियों के नाम लेटर लिखा था। इसमें उन्होंने कहा था कि पीएनबी ने जल्दबाजी में मामले को उजागर कर दिया जिससे उनका धंधा और ब्रांड दोनों चौपट हो गए। जिसके चलते रिकवरी के सारे रास्ते भी बंद हो गए।
नीरव ने कंपनी से जुड़े कर्मचारियों से सैलरी न दे पाने और नई जॉब ढूंढने के लिए कहा था। लेटर में नीरव ने पीएनबी से मांग की थी उनके खातों में पड़ी रकम से 2200 कर्मचारियों को भुगतान कर दिया जाए।

अब तक क्या कार्रवाई हुई?
शुक्रवार यानी 9वें दिन ईडी ने नीरव मोदी के 30 करोड़ रुपए बैलेंस वाले बैंक अकाउंट्स, 13.86 करोड़ रुपए मूल्य के शेयर्स, इम्पोर्टेड वॉच से भरे 60 कंटेनर और स्टील की 176 अलमारी जब्त कीं।
वहीं गुरुवार को हीरा कारोबारी नीरव मोदी और गीतांजलि ग्रुप के मालिक मेहुल चौकसी के 100 करोड़ रुपए मूल्य के बैंक डिपाॅजिट्स, लग्जरी कारें और शेयर्स जब्त किए।
उधर, इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने हैदराबाद सेज (इस्पेशल इकोनॉमिक जोन) में गीतांजलि ग्रुप की 1200 करोड़ की प्रॉपर्टी अटैच की।

नीरव मोदी और मेहुल चौकसी से जुड़ा क्या है मामला

पंजाब नेशनल बैंक ने पिछले दिनों सेबी और बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज को 11,356 करोड़ रुपए के घोटाले के जानकारी दी थी। घोटाला पीएनबी की मुंबई की ब्रेडी हाउस ब्रांच में हु। शुरुआत 2011 से हुई। 8 साल में हजारों करोड़ की रकम फर्जी लेटर ऑफ अंडरटेकिंग्स (LoUs) के जरिए विदेशी अकाउंट्स में ट्रांसफर की गई।
धोखाधड़ी की रकम 2016-17 में पंजाब नेशनल बैंक के 1,325 करोड़ के मुनाफे का 8 गुना, बैंक के 35,365 करोड़ के मार्केट कैप का एक तिहाई और 4.5 लाख करोड़ के कुल कर्ज का 2.5% है।
2017 में फोर्ब्स की अमीर भारतीयों की लिस्ट में शामिल नीरव मोदी इस फ्रॉड के केंद्र में हैं। मोदी का मामा मेहुल चौकसी भी आरोपी है। चौकसी गीतांजलि ग्रुप चलाता है। ग्रुप की तीन कंपनियों गीतांजलि जेम्स, गिली इंडिया और नक्षत्र के खिलाफ फ्रॉड केस दर्ज हुए हैं।

Summary
Review Date
Reviewed Item
पीएनबी मामला : मेहुल चौकसी ने कहा मैंने,कुछ गलत नही किया
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.