ज़हरीली शराब का कहर : बिहार में अब तक 34 मौतें…मृतकों में BSF और सेना का जवान भी शामिल

बिहार में ज़हरीली शराब से मौतों का सिलसिला जारी है. शुक्रवार तक 30 से अधिक लोगों की मौत हुई. अब बिहार के समस्तीपुर में भी चार लोगों की मौत हुई है.

समस्तीपुर: बिहार में ज़हरीली शराब से मौतों का सिलसिला जारी है. शुक्रवार तक 30 से अधिक लोगों की मौत हुई. अब बिहार के समस्तीपुर में भी चार लोगों की मौत हुई है. आशंका जताई जा रही है कि ये मौतें भी ज़हरीली शराब पीने से हुई हैं. मृतकों में एक बीएसएफ का जवान और एक भारतीय सेना का जवान भी शामिल है. पुलिस पूरे मामले की छानबीन में जुटी है. बता दें कि बिहार में शराब पर पूरी तरह से प्रतिबन्ध है.

पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि पटोरी थाना क्षेत्र में संदिग्ध परिस्थिति में चार लोगों की मौत हो गई है. ये सभी लोग एक श्राद्ध कार्यक्रम में खाना खाए थे. आशंका जताई जा रही है कि इनसभी लोगों ने वहीं शराब पी थी और सभी की तबियत बिगड़ गई. इस घटना में अब तक चार लोगों की मौत हो गई है जबकि दो लोग अभी भी बीमार बताए जा रहे हैं.

Murder : अलीगढ़ में व्यापारी की गोली मारकर हत्या 

मृतकों की पहचान बीएसएफ के जवान विनय कुमार, आर्मी जवान जगन्नाथ राय, श्यामनंदन चौधरी और वीरचंद राय के रूप में की गई है. सभी लोग रूपौली पंचायत के रहने वाले हैं. समस्तीपुर के पुलिस अधीक्षक मानवजीत सिंह ढिल्लो ने बताया कि तीन नवंबर को मृतक जगन्नाथ राय की चाची के निधन के बाद श्राद्ध कार्यक्रम के दौरान भोज का आयोजन किया गया था. उन्होंने संभावना जताते हुए कहा कि इसी दौरान सभी ने शराब पी होगी. उन्होंने कहा कि दो शवों को पुलिस ने बरामद किया है और उसे पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भेजा गया है.

ढिल्लो ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत के सही कारणों का पता चल सकेगा. उन्होंने कहा कि घटनास्थल से एक शराब की बोतल बरामद की गई है तथा पूरे मामले की छानबीन की जा रही है. उन्होंने बताया कि दो बीमार व्यक्तियों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उनकी स्थिति खतरे से बाहर बताई जा रही है. उल्लेखनीय है कि पिछले एक सप्ताह के अंदर राज्य के मुजफ्फरपुर, गोपालगंज और पश्चिम चंपारण जिले में कथित रूप से जहरीली शराब पीने से 30 से अधिक लोगों की मौत हो गई है. कई लोग अभी भी बीमार बताए जा रहे हैं.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button