छत्तीसगढ़

जंगलों में सर्चिंग के दौरान नक्सली सदस्य गिरफ्तार, पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी

दीपक चावला

धमतरी पुलिस और डीआरजी की टीम को मिली अहम कामयाबी, जंगलों में सर्चिंग के दौरान नक्सली सदस्य गिरफ्तार, कई नक्सली घटनाओं में रहा है शामिल।

धमतरी:

बुधवार धमतरी जिले के नक्सल इलाकों में शामिल कटीगांव, खालसाबुडरा के जंगलों में पुलिस सर्चिंग टीम को एक अहम कामयाबी हासिल हुई है जहां 6 साल से नक्सलि संगठन में काम करने वाला नक्सली पुलिस के हत्थे चढ़ गया, कई नक्सली घटनाओं में शामिल इस नक्सली को बोरई पुलिस व डी आर जी की संयुक्त टीम ने गिरफ्तार किए जाने के बाद नक्सली को न्यायिक रिमांड पर जेल भेजा गया है दरअसल नक्सली इलाकों में लगातार डी आर जी व नक्सल इलाकों की पुलिस द्वारा दिन रात सर्चिंग कर रही इसी दौरान बोरई पुलिस व डी आर जी की संयुक्त टीम मंगलवार कि रात्रि कट्टिगांव, खलासाबुडरा के मध्य जंगल में सर्चिंग के दौरान एक व्यक्ति टीम को देख भागने लगा, जिसे संयुक्त टीम द्वारा जंगल में घेराबंदी कर पकड़ा गया, बाद इसके इस शख्स की पहचान नक्सली संगठन सीतानदी दलम के सदस्य रामू उर्फ रामयू वेकयो के रूप में हुई, जो कई नक्सली घटनाओं में शामिल था, भेसामढ़ थाना जिला बीजापुर का रहने वाला नक्सली रामू 2013 में सितनादी दलम में शामिल हो कर, टिफिन बम लगना, पेड़ काट कर मार्ग अवरुद्ध करना पुलिस पार्टी पर जानलेवा हमला करना, ग्राम जोगिबिदरो में हत्या करना, 2019 में कट्टी गाव के जंगल में हुई पुलिस मुठभेड़ में नक्सली लीडर सीमा मंडावी के मारे जाने, संदबाहारा के जंगल में हुई मुठभेड़ में राजू, मुन्नी, प्रमिला जेसे नक्सलियों के मारे जाने वाले मुठभेड़ में भी शामिल था, जिसे संयुक्त टीम ने धर दबोचा है जानकारी के मुताबिक नक्सली सदस्य रामू लगातार सुरक्षा बलो द्वारा की जा रही करवाई से व दलम के लीडरों कि हुई लगातार मुठभेड़ों में मौत से काफी घबरा गया था, बाद इसके से ही रामू संगठन से अलग होकर अपनी गिरफ्तारी से बचने छुपता फिर रहा था जिस पर बोरई, डी आर जी की संयुक्त टीम की नजर पड़ी, संयुक्त टीम को देख नक्सली भागने की कोशिश अवश्य की पर टीम ने घेरा बंदी कर इस नक्सली को गिरफ्तार करने में अहम कामयाबी हासिल की है।

Tags
Back to top button