पूर्व नक्सली को पुलिस ने एक बार फिर किया गया गिरफ्तार

धीरज की धौंस के आगे पुलिस महकमे के कुछ अधिकारी ऐसे है जो कुछ भी टिप्पणी करने से परहेज करते है

रायपुर:कुसमी थाने में दर्ज अपराध क्रमांक 91/19 भादवि की धारा 394,25-27 आर्म्स एक्ट में फरार आरोपी पूर्व नक्सली धीरज जायसवाल को पुलिस ने राजपुर थाने में दर्ज अपराध क्रमांक 130/21 में उल्लेखित भादवि की धारा 384,394,506,294 के तहत गिरफ्तार किया है.

बता दे कि धीरज जायसवाल पर यह भी आरोप लगे है की वह वाट्सएप पर वर्तमान में सरगुजा के प्रभारी आईजी रतन लाल डांगी और छत्तीसगढ़ पुलिस मुख्यालय में पदस्थ एडीजी एसआरपी कल्लूरी की फोटो का डीपी(प्रोफ़ाइल पिक्चर) के रूप में उपयोग कर पुलिस महकमे के ही अधिकारियों और कर्मचारियों पर धौंस जमाता है धीरज जायसवाल के विरुद्ध सरगुजा रेंज के सूरजपुर ,बैकुंठपुर और बलरामपुर जिले के पस्ता,शंकरगढ़,राजपुर,कुसमी थानों में पहले से कई गम्भीर मामले दर्ज है जिसकी शिकायत सरगुजा आईजी से की गई है और आईजी सरगुजा ने मामले में जांच के निर्देश दिए है!

बहरहाल 12 जुलाई को बलरामपुर जिले के राजपुर थाना क्षेत्र के परसवार कला में स्थित रेत भंडारण स्थल से डीजल लूटने और भंडारण में कार्य कर रहे श्रमिको को बंदूक दिखाकर मारपीट करने के मामले में बारियो चौकी प्रभारी रजनीश सिह की टीम ने धीरज जायसवाल को उसके सम्भावित ठिकानों में छापेमारी के दौरान गिरफ्तार किया था

वही धीरज जायसवाल पर ग्रामीण आदिवासियों, व्यवसायियों को डरा धमकाकर पैसे वसूलने के आरोप लगते रहे है जिसके साक्ष्य के रूप में सरगुजा रेंज के थानों में दर्ज एफआईआर है जो गवाही देते है..की एक पूर्व नक्सली आज खुद ही पुलिस महकमे के लिए नासूर बन गया है. और धीरज की धौंस के आगे पुलिस महकमे के कुछ अधिकारी ऐसे है जो कुछ भी टिप्पणी करने से परहेज करते है!

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button