पुलिस ने कत्ल के एक मामले में दो आरोपियों को किया गिरफ्तार

लिस द्वारा गिरफ्तार आरोपियों के नाम प्रवीण और मनजीत

नई दिल्ली: दिल्ली में दो लोगों ने चोरी के शक के आरोप में एक व्यक्ति को इस बुरी तरीके से मारा कि उसकी मौत हो गई. उसके बाद आरोपियों ने शव को एक खाली इलाके में फेंक दिया और उसके कपड़े दूसरी जगह पर फेंक दिए ताकि उसकी पहचान ना हो सके. बाद में आरोपी घटनास्थल से अपनी गाड़ी से भाग निकले. इस मामले में दिल्ली की सोनिया विहार पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है. पुलिस द्वारा गिरफ्तार आरोपियों के नाम प्रवीण और मनजीत हैं.

पुलिस के अनुसार 26 दिसंबर की सुबह तकरीबन 7 बजे के आसपास एक अनजान शख्स ने सोनिया विहार थाने में फोन किया और बताया कि मिलन गार्डन इलाके के पास सुनसान जगह पर एक शख्स घायल हालत में पड़ा है. पुलिस की टीम फौरन मौके पर पहुंची और पीड़ित को पास के हॉस्पिटल ले गए जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. पुलिस ने इस मामले में तुरंत कत्ल का केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी थी.

केस की जांच कर रही पुलिस को ना तो मौके से और ना आसपास से ही कोई भी ऐसा सुराग मिला जिससे वह पीड़ित की पहचान कर सके. पीड़ित के कपड़े वारदात की जगह से करीब 100 मीटर दूर मिले लेकिन उससे भी पुलिस को कोई सुराग नहीं मिल सका. इसके बाद पुलिस ने आसपास के इलाकों के सीसीटीवी फुटेज की जांच करनी शुरू की. दूसरी तरफ पुलिस की एक टीम मृतक की पहचान करने में भी जुटी हुई थी. पुलिस ने तमाम थानों में गुमशुदगी की रिपोर्ट चेक की. इस दौरान पुलिस को पता लगा कि पीड़ित का नाम सुनील वर्मा है और वह लोनी गाजियाबाद का रहने वाला है. पुलिस को एक कामयाबी तो मिली लेकिन सुनील वर्मा की हत्या किसने और किस इरादे से की, यह साफ नहीं हो पा रहा था.

सीसीटीवी फुटेज की जांच के दौरान घटना के आसपास के समय 14 गाड़ियां गुजरी थीं. पुलिस ने इनमें से एक गाड़ी पर नजर गड़ाई. इसके बाद पुलिस ने इस गाड़ी में बैठे मनजीत और प्रवीण को हिरासत में ले लिया और पूछताछ शुरू कर दी. इसके बाद इन दोनों ने सुनील वर्मा के साथ हुई मारपीट और हत्या की पूरी कहानी पुलिस को बता दी. आरोपियों ने पुलिस को बताया कि 25 और 26 दिसंबर की रात वह दोनों अपनी गाड़ी में बैठकर सुनसान इलाके में शराब पी रहे थे. तभी उन्हें सुनील वर्मा वहां पर संदिग्ध हालत में घूमता नजर आया जिस पर उन दोनों को शक हुआ कि यह चोरी के इरादे से इस इलाके में पहुंचा हुआ है.

इसके बाद दोनों ने सुनील को अपनी गाड़ी में बिठा लिया और उसके साथ मारपीट शुरू कर दी. पुलिस का कहना है कि पहले उसे गाड़ी में मारा गया और इसके बाद गाड़ी से निकाल कर बाहर लाठी-डंडों से इस कदर मारा गया कि सुनील की मौके पर ही मौत हो गई. इसके बाद इन लोगों ने पीड़ित के शव को सुनसान इलाके में फेंक दिया. आरोपी कपड़ों को दूसरे स्थान पर ले गए और वहां फेंक दिया. इस बाद दोनों मौके से फरार हो गए. पुलिस ने दोनों आरोपियों को वारदात के 36 घंटे के अंदर सीसीटीवी फुटेज से मिले सबूत के आधार पर गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस का कहना है कि पीड़ित उत्तर प्रदेश के बदायूं का रहने वाला है और फिलहाल वह गाजियाबाद के लोनी में रहता था.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button