छत्तीसगढ़

ऑनलाइन मार्केटिंग कंपनी की आड़ में ठगी, दो शातिर ठगों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

दफ्तर बंद कर फरार

रायपुर: ऑनलाइन मार्केटिंग कंपनी की आड़ में ठगी के मामले में पुलिस ने दो शातिर ठगों को गिरफ्तार किया। मामला छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर का है, जहां दो शातिर ठगों ने फर्जी ऑनलाइन मार्केटिंग कंपनी बनाकर लगभग चार लाख की ठगी की।

बेरोजगारों को नौकरी दिलाने का झांसा

ठगों ने स्टेशन रोड नाहरपारा में कंपनी का दफ्तर खोलकर 20 से अधिक बेरोजगारों को नौकरी दिलाने का झांसा देकर आइडी प्रूफ लिए थे। इन्हीं आइडी प्रूफ से मोबाइल दुकान से चार लाख रुपये के मोबाइल फाइनेंस कराने के बाद दफ्तर बंद कर भाग निकले।

लाखे नगर चौक निवासी ने की शिकायत

गंज थाना प्रभारी यदूमणि सिदार ने बताया कि लाखे नगर चौक निवासी महेश कुमार शुक्ला (25) ने धोखाधड़ी की शिकायत दर्ज कराई थी। उसने शिकायत में कहा था कि 24 जनवरी से 24 फरवरी के बीच देशबंधु स्कूल के सामने सालाजी सागर कंपनी के ऊपर स्टेशन रोड नाहरपारा में ग्राम भंवरपुर बसना के रविशंकर देवांगन और प्रेम नगर गुढ़ियारी निवासी राजू वर्मा ने ऑनलाइन ऑल इन वन मार्केटिंग कंपनी में नौकरी देने का विज्ञापन अखबार में प्रकाशित कराया था।

विज्ञापन देखकर महेश के अलावा अविनाश कुमार साहू, मेहुल राठौर, पवन निषाद, हरिशंकर निषाद, प्रेम नारायण साहू, प्रेमलाल साहू, मुकेश घिदौडे, शिवमंगल सिंह, मनीष पांडेय, माधुरी, विनोद कुमार गौतम, खीरसागर साहू समेत 20 लोगों ने दफ्तर में संपर्क किया।

महेश को सात हजार वेतन पर आफिस ब्वॉय तथा अन्य को दस हजार वेतन पर मार्केटिंग के काम के लिए रखा गया। सभी को बैग व टी-शर्ट दिए गए। इसके एवज में पांच-पांच सौ रुपये लिए गए। कंपनी की शर्त के अनुसार सभी कर्मचारियों के आइडी से मोबाइल फाइनेंस कराया गया, जिसमें कहा गया था कि दस्तावेज कर्मचारियों के रहेंगे एवं मोबाइल का ईएमआइ कंपनी भुगतान करेगी।

चार लाख के मोबाइल फाइनेंस कराने के बाद कंपनी ने एक भी कर्मचारी को नहीं दिया और न ही उसकी ईएमआइ का भुगतान किया। कंपनी के संचालक रविशंकर देवांगन और फाइनेंसर व मुख्य भागीदार राजू वर्मा हमेशा कर्मचारियों को साथ लेकर टीवी व मोबाइल फाइनेंस कराने उनकी आइडी लेकर दुकान जाते थे। बाद में वे दफ्तर बंद कर फरार हो गए। कंपनी ने किसी कर्मचारी को वेतन तक नहीं दिया। शिकायत के बाद पुलिस ने धोखाधड़ी का अपराध कायम कर रविशंकर देवांगन और राजू वर्मा को गिरफ्तार कर लिया।

Tags
Back to top button