छत्तीसगढ़

आतंक मचा रहे चार युवको को पुलिस लेकर आई थाना, परिजनों ने थाना स्टाफ से की अभद्रता

अरविंद शर्मा:

कटघोरा: कटघोरा थाना में आतंक मचा रहे युवकों मामला आया है। पुलिस जब इन तीन युवकों को पूछताछ के लिए थाने लेकर आई तो युवकों के परिजनों ने थाना परिसर में पुलिस कर्मियों के साथ अभद्र व्यवहार करने लगे, मामले को गम्भीरता से लेते हुए थाना प्रभारी रघुनंदन प्रसाद शर्मा ने युवकों पर धारा 151 के तहत प्रतिबंधात्मक कार्यवाही की है।

जिला कोरबा के अंतर्गत थाना कटघोरा में आया जिसमे एक ट्रक चालक कटघोरा की ओर आ रहा था, जिसे कटघोरा के दो लड़के जिसमें रंजीत कुर्रे, प्रेमदास ने ग्राम हुंकरा के पास रोक कर साइड नहीं देने के नाम पर रोका, तथा ट्रक ड्राइवर के साथ हुज्जतबाज़ी कर उसके साथ मारपीट की जिससे उसके सिर पर गंभीर चोट आने से उसे कटघोरा स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया।

बल पूर्वक पकड़ कर लाया गया कटघोरा थाना

घटना स्थल से 112 को फ़ोन कर सूचना देने पर पंहुची 112 के पुलिस कर्मियों से भी आरोपी हुज्जत बाज़ी करने लगे। उन्हें बल पूर्वक पकड़ कर कटघोरा थाना लाया गया। कुछ देर उपरांत आरोपियों के परिजन जिसमें महिलायें तथा कुछ पुरुष कटघोरा थाने पंहुचे जहाँ पुलिस द्वारा परिजनों को बाहर रहने के लिए कहा गया लेकिन आरोपियों के परिजन पुलिस की बात को न मानते हुए थाना के भीतर घुस कर पुलिस कर्मियों के साथ अभद्र व्यवहार करने लगे।

उसी समय आरोपी को थाना के बंदीगृह में रखने ले जाते समय दोनों आरोपी अपने परिजनों की ओर बढ़ने लगे इसी बीच परिवार के साथ आये दो लड़के आरोपी को अपनी ओर खींचने लगे। इस बीच पुलिस तथा थाना प्रभारी रघुनन्दन प्रसाद शर्मा ने अपनी सतर्कता दिखाते हुए छुड़ाने की कोशिश करने लगे।

तभी दोनो लड़के दीपक पाटिल व शैलेन्द्र यादव ने पुलिस के साथ हुज्जतबाज़ी तथा हांथा पाई करने लगे। तथा एक आरोपी अपनी माँ को जोर से पकड़ लिया जिसे छुड़ाने के दौरान दीपक पाटिल नाम के लड़के ने अपने आप को नाबालिग कहते हुए थाना प्रभारी व पुलिस के साथ गाली गलौज व हुज्जतबाज़ी करने लगा।

आरोपियों के परिजन थाना परिसर में दबाव पूर्वक आरोपियों को छोड़ने व अभद्र व्यवहार कर रहे थे। फिलहाल कटघोरा पुलिस ने चारों आरोपियों पर धारा 151 पर प्रतिबंधात्मक कार्यवाही की।

Tags
Back to top button