कुलदीप हत्याकांड में उलझी CG पुलिस, कॉल लोकेशन में नहीं मिला सुराग

भिलाई: कुलदीप हत्याकांड को चार दिन बीत चुके हैं। कोचिंग सेंटर मैनेजर की हत्या के मामले में पुलिस के हाथ ठोस सबूत नहीं लगे हैं। हत्याकांड का मामला मोबाइल लोकेशन में ही उलझ गया है। मामले को सुलझाने में पुलिस की नींद उड़ गई है।
बता दें कि पुलिस कुलदीप कौर हत्याकांड में अब तक मिले लोकेशन में उतई, जेवरा-सिरसा और सिविक सेंटर के नाम सामने आए थे। जां लोकेशन मिलने के बाद भी कोई अहम सुराग पुलिस के हाथ नहीं लगा है। लिहाजा हत्याकांड का यह मामला मोबाइल लोकेशन के मकडज़ाल में उलझ कर रह गया है। इस हाईप्रोफाइल मामले की जांच को लेकर क्राईम ब्रांच और पुलिस के उच्चधिकारी बार-बार बैठक लेकर सभी कडिय़ों को जोडऩे का प्रयास कर रहे है। वहीं हर हाल में हत्याकांड के मुख्य अपराधी को पकडऩे की बात कही जा रही है। पुलिस को जहां-जहां मोबाइल लोकेशन मिले हैं उन सभी स्थानों पर पुलिस की खुफिया टीम को लगा दिया गया है।
अब आलम ये है कि पुलिस जिस मुखबिरी के नाम से खुद की पीठ थपथपाती थी दरअसल उनका मुखबिर तंत्र ही फेल हो चूका है।

ब्यूटी पार्लर संचालकों से की पूछताछ
कुलदीप कौर के घर आने-जाने वालों पर पुलिस की नजर है। पुलिस ने शहर के ब्यूटी पार्लर संचालकों से पूछताछ की , बावजदू इसके मृतका के बारे में पुलिस को न सबूत मिला न जानकारी। पुलिस ने कहा कि कुलदीप कौर जिस मोबाइल का उपयोग करती थी, उसका लॉक थम से खुलता है | जिसका लॉक पुलिस नहीं खोल पाई। इधर पुलिस को ये डर है कि कुलदीप कौर का मोबाइल क्षतिग्रस्त होता है तो उसमें से सारे डेटा मिट जाएंगे।

आरोपी की तलाश जारी
कुलदीप कौर हत्याकांड मामले में पुलिस आरोपी की तलाश में जुटी है। पुलिस की टीम जगह-जगह दबिश दे रही है। कार के बारे में अब तक कोई जानकारी नहीं मिली है।
डीआर पोर्ते, एएसपी ऑपरेशन

Back to top button