पुलिस स्मृति दिवस : राज्यपाल अनुसुईया उइके कल शहीद पुलिसर्मियों के परिजनों से करेंगी भेंट और लेंगी परेड की सलामी

रायपुर। राज्यपाल अनुसुईया उइके एवं मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की उपस्थिति में 21 अक्टूबर को पुलिस स्मृति दिवस परेड का आयोजन किया जायेगा। शहीदों की स्मृति में कार्यक्रम चौथी वाहिनी, छसबल, माना में सुबह 8.50 से 10.21 बजे तक संपन्न होगा। कार्यक्रम में राज्यपाल महोदया 1 सितम्बर 2020 से 31 अगस्त 2021 तक छत्तीसगढ राज्य में शहीद हुए 32 पुलिसकर्मियों के परिजनों से भेंट करेंगी। कार्यक्रम के प्रारंभ में राज्यपाल महोदया को परेड द्वारा सलामी एवं बैण्ड द्वारा राष्ट्रीय धुन का वादन और पाल-बियरर पार्टी द्वारा सम्मान सूची का प्रस्तुतिकरण किया जायेगा। इसके उपरांत 9.10 बजे पुलिस महानिदेशक द्वारा श्रद्धांजलि उद्बोधन, 9.13 बजे गृहमंत्री द्वारा श्रद्धांजलि उद्बोधन, 9.15 बजे मुख्यमंत्री द्वारा श्रद्धांजलि उद्बोधन और 9.22 बजे राज्यपाल महोदया द्वारा श्रद्धांजलि उद्बोधन किया जायेगा।

कार्यक्रम में पाल-बियरर पार्टी द्वारा सम्मान सूची का स्मारक कोष में संस्थापन एवं शहीदों को सलामी दी जायेगी साथ ही संपूर्ण भारत में दिनांक 01.09.2020 से 31.08.2021 तक कर्तव्य की वेदी पर शहीद हुये सुरक्षा कर्मियों की नामावली वाचन तथा अतिथियों व पुलिस अधिकारियों द्वारा पुष्पांजलि अर्पण किया जायेगा। कार्यक्रम में विगत वर्ष देशभर में शहीद हुए विभिन्न सुरक्षा बलों के 377 शहीदों के नामों का वाचन कर श्रद्धांजलि अर्पित की जायेगी। उल्लेखनीय है कि पुलिस स्मृति दिवस प्रत्येक वर्ष 21 अक्टूबर को आयोजित किया जाता है। यह दिवस इसलिए मनाया जाता है क्योंकि 21 अक्टूबर 1959 को लद्दाख के हॉट स्प्रिंग में देश की सुरक्षा की प्रथम पंक्ति में तैनात सीआरपीएफ के एक छोटे से गश्ती दल पर चीनी सेना द्वारा भारी संख्या में घात लगाकर हमला किया गया था। इस लड़ाई में 10 सीआरपीएफ के रणबांकुरों ने सर्वाेच्च बलिदान दिया था।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button