पुलिस नक्सली मुठभेड़ की दण्डाधिकारी जांच शुरू, डी राहुल वेंकट होंगे जांच अधिकारी

पुलिस पार्टी द्वारा आत्मसमर्पण करने हेतु आवाज लगाया गया

बीजापुर : अनुविभागीय दण्डाधिकारी बीजापुर द्वारा थाना गंगालूर क्षेत्रान्तर्गत ग्राम मुतवेण्डी के जंगल के पास हुए पुलिस नक्सली मुठभेड की घटना घटित हुई है। जिसमें थाना गंगालूर से जिला बल के 35 नफर, कोबरा 204 गंगालूर के 67 नफर व डीआरजी बीजापुर के 98 नफर की संयुक्त पार्टी नक्सल गश्त सर्चिंग पर रवाना हुये थे, घटना 05 जनवरी 2018 को ग्राम मुतवेण्डी के जंगल में पूर्व से घात लगाकर बैठे 50-60 प्रतिबंधित संगठन भा.क.पा. माओवादी के अज्ञात वर्दीधारी सशस्त्र नक्सलियों द्वारा पुलिस पार्टी को जान से मारने एवं हथियार लूटने की नियत से अंधाधुंध फायरिंग करने लगे।

पुलिस पार्टी द्वारा माओवादियों को अपनी उपस्थिति बताते हुए फायरिंग बंद कर आत्मसमर्पण करने हेतु आवाज लगाया गया, किन्तु माओवादियों द्वारा पुलिस की आवाज को अनसूना करते हुये लगातार फायरिंग करते रहे। तब पुलिस पार्टी द्वारा आत्मसुरक्षा के लिए जवाबी फायरिंग की गई। पुलिस पार्टी के बढ़ते दबाव को देखते हुए नक्सली घने जंगल आड़ लेकर भाग गये।

फायरिंग बंद होने के बाद घटना स्थल का सर्चिंग करने पर घटना स्थल से 01 अज्ञात वर्दीधारी पुरुष नक्सली एवं 01 अज्ञात वर्दीधारी महिला नक्सली का शव बरामद हुआ, शव के पास से 01 नग 303 रायफल, 01 नग 12 बोर बन्दूक, 01 नग देशी कट्टा, 303 रायफल का जिंदा राउण्ड 14 नग, 12 बोर जिंदा राउण्ड 03 नग, देशी पिस्तौल का जिंदा राउण्ड 03 नग, एसएलआर का खाली खोखा 01 नग, एके 47 का खाली खोखा 01 नग, नक्सली बैनर, सोलर प्लेट, नक्सली साहित्य एंव अन्य दैनिक उपयोगी सामग्री बरामद किया गया।

कलेक्टर एंव जिला दण्डाधिकारी बीजापुर द्वारा उक्त घटना के संबंध में दण्डाधिकारी जांच किये जाने हेतु अनुविभागीय दण्डाधिकारी बीजापुर डी राहुल वेंकट को जांच अधिकारी नियुक्त किया है। संबंध में जिस किसी को भी किसी प्रकार की जानकारी हो तो 31 मार्च 2018 तक न्यायालय अनुविभागीय दण्डाधिकारी , बीजापुर मुख्यालय जिला कार्यालय बीजापुर में उपस्थित होकर प्रस्तुत कर सकते है।

advt
Back to top button