पुलिस ने दागे आंसू गैस के गोले, सरकारी वाहनों पर भी किया पथराव

मंदसौर : आगामी एक जून से शुरू होने वाले किसान आंदोलन ने पुलिस की नींद उड़ा कर रखी दी है। आंदोलन के दौरान सारी चीजें व्यवस्थित रहें इसके लिए पुलिस अभी से ही मुस्तैद है। रविवार को रिहर्सल के दौरान पुलिस ने आंसू गैस के गौले दागे और वाहनों पर पथराव का जायजा भी लिया।इस दौरान पुलिस ने आंदोलनकारियों को खदेड़ने का अभ्यास किया।

किसान क्यों कर रहे हैं आंदोलन ?

बता दें कि किसान केंद्र सरकार की कथित किसान विरोधी नीतियों के विरोध में देश भर में एक जून से दस तक आंदोलन करेंगे। इन दिनों में सब्जियों, अनाजों और दूध जैसे कृषि उत्पादों की आपूर्ति नहीं की जाएगी। इस आंदोलन में 110 किसान संगठनों के किसान इकट्ठे होंगे। किसानों ने पांच जून को धिक्कार दिवस, छह जून को शहादत दिवस, आठ जून को असहयोग दिवस और दस जून को भारत बंद करने का फैसला किया गया है।

6 जून को क्या हुआ था ?

गौरतलब है कि बीते साल छह जून को मंदसौर जिले किसान अपनी मांगों को लेकर प्रदर्शन कर रहे थे इस दौरान मामला बढ़ता देख पुलिस ने किसानों को रोकने का कोशिश की। इस पर किसान जब नहीं रुके तो पुलिस ने किसानों को रोकने के लिए गोलीबारी शुरू कर दी। इस गोलीबारी में 6 किसानों की मौत हुई थी। इसी कड़ी में किसान छह जून को शहादत दिवस के रूप में मनाने जा रहे हैं।
<>

new jindal advt tree advt
Back to top button