क्राइमराष्ट्रीय

‘मानसिक रूप से कमजोर’ को भीड़ से बचाया पुलिस ने

जम्मू कश्मीर: कश्मीर में बारामुला जिले के सोपोर में पुलिस ने एक ‘मानसिक रूप से अस्वस्थ’ व्यक्ति को भीड़ के चंगुल से बचाया. हिंसक भीड़ ‘चोटी कटवा’ होने के शक में उसकी हत्या करने पर उतारू थी.
पुलिस ने बताया कि पुलिस को सूचना मिली थी कि यहां से 52 किलोमीटर दूर सोपोर के फल मार्केट में स्थानीय लोगों की भीड़ ने कथित ‘चोटी कटवा’ को घेर रखा है.

उन्होंने कहा, ‘तत्काल पुलिस का एक दल घटनास्थल पहुंचा और देखा कि भीड़ एक व्यक्ति को बुरी तरह पीट रही है. शरारती तत्वों ने कुछ घास जलाई हुई थी और उस व्यक्ति को जलाने की कोशिश कर रहे थे. वहीं कुछ अन्य शरारती तत्व उसके ऊपर ट्रैक्टर चढ़ाने की कोशिश कर रहे थे.’ उन्होंने बताया कि पीड़ित वसीम अहमद तंत्री को पुलिस दल ने तत्काल मुक्त कराया और उसे

अस्पताल ले जाया गया. हालात गंभीर होने के कारण उसे श्रीनगर के अस्पताल में रेफर किया गया है. उन्होंने बताया कि तंत्री मानसिक रूप से अस्वस्थ बताए जा रहे हैं.
किया गया श्रीनगर रेफर

अधिकारी ने कहा, ‘तंत्री को तुरंत सोपोर के अस्पताल ले जाया गया जहां उसकी हालत खराब होते देख डॉक्टर ने श्रीनगर रेफर कर दिया.’ पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर घटना में शामिल लोगों की पहचान की है.

कश्मीर के विभिन्न भागों में पिछले एक माह में चोटी कटने की 130 से अधिक घटनाएं हुई हैं लेकिन पुलिस इस संबंध में अभी तक किसी को गिरफ्तार नहीं कर सकी है. इस घटनाओं को अंजाम देने वालों को पकड़ने के लिए स्पेशल इन्वेस्टीगेशन टीम गठित किए गए हैं. पुलिस ने चोटी कटवा को पकड़वाने के बारे में सूचना देने वाले के लिए छह लाख रुपए के इनाम की घोषणा भी की है.

Summary
Review Date
Reviewed Item
मानसिक
Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.