पुलिस ने 24 घंटे के अंदर सुलझाया कारोबारी के घर हुई लाखों की चोरी की गुत्थी

पुलिस ने कारोबारी की बेटी और उसके दो दोस्तों को गिरफ्तार कर लिया, एक आरोपी अब भी फरार

लखनऊ:उत्तर प्रदेश के राजधानी लखनऊ के गोंसाईगंज इलाके में पिपरमेंट कारोबारी के घर हुई लाखों की चोरी मममले में पुलिस ने उन्ही की बेटी और उसके दो दोस्तों को गिरफ्तार कर लिया है. एक आरोपी अब भी फरार है.

26- 27 मई की रात गोसाईगंज के मनोज कुमार के घर में अलमारी का ताला तोड़कर उसमें रखे 13 लाख रुपये और 3 लाख रुपये के ज़ेवर को चुरा लिया गया था. पिपरमेंट कारोबारी मनोज की तहरीर पर पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर मामले की तफ्तीश शुरू की तो घर में मौजूद मनोज कुमार, उसकी पत्नी और उसकी बेटी के बयानों में भिन्नता मिल रही थी.

घर में किसी के जबरन घुसने के सबूत नहीं मिले थे. मेन गेट का ताला भी नहीं टूटा था. तो एक बात साफ हो रही थी कि अलमारी का ताला घर के ही किसी जानकार ने तोड़ा है या चोर को आने की इजाजत दी है.

मर्जी के खिलाफ शादी तय होने से थी नाराज

कारोबारी की लड़की खुशबू के मोबाइल की डिटेल जब पुलिस ने निकलवाई तो पता चला वह पास के रहने वाले विनय यादव के लगातार संपर्क में थी. पुलिस ने विनय यादव को आनन-फानन में उठा लिया और सख्ती से पूछताछ की तो पूरा मामला खुल गया.

पता चला खुशबू की विनय यादव से दोस्ती है, लेकिन यह दोस्ती खुशबू के पिता मनोज कुमार को नागवार गुजरती है. लिहाजा मनोज ने बेटी की शादी उसकी मर्जी के खिलाफ कहीं पर तय कर दी थी. डीसीपी साउथ डॉक्टर ख्याति गर्ग ने बताया कि खुशबू ने विरोध किया तो पिता ने उसको डांट लगाई.चोरी की रकम बरामद

बस इसी बात से नाराज होकर खुशबू ने विनय के साथ मिलकर अपने ही घर में चोरी का प्लान बनाया। रात को जब सो गए थे तब खुशबू ने धीरे से दरवाजा खोला। जिसके बाद विनय अपने दो साथियों के साथ घर में दाखिल हुआ और अलमारी का ताला तोड़कर रक़म और सोने के जेवर लेकर फरार हो गया.

पुलिस ने खुशबू , विनय यादव और शुभम यादव को गिरफ्तार कर लिया है और आरोपियों के कब्जे से 11.30 लाख रुपये और जेवर बरामद कर लिए हैं. वही फरार चल रहे एक आरोपी की गिरफ्तारी के लिए दबिश जारी है

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button