छत्तीसगढ़

10 मार्च को शून्य से पांच वर्ष के सभी बच्चों को पिलाई जाएगी पोलियो की दवा

कलेक्टर ने की समय-सीमा की बैठक लेकर विभागीय कार्यो की समीक्षा

मनोज मिश्रा

महासमुंद। कलेक्टर सुनील कुमार जैन ने आज यहां जिला कार्यालय के सभाकक्ष में समय-सीमा की बैठक लेकर अधिकारियों से काम-काज की समीक्षा की। उन्होंने बैठक में कहा कि आगामी लोकसभा निर्वाचन-2019 के तहत जिले में विभिन्न स्तरों पर अधिकारियों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है, इसके तहत आगामी 11, 12 एवं 13 मार्च 2019 को जिले के सभी विकासखंडों मंे मतदान दलों को प्रशिक्षण दिया जाएगा।

इस संबंध में उन्होंने संबंधित अधिकारियों को आवश्यक व्यवस्था एवं तैयारियां करने के निर्देश दिए। इसके अलावा उन्होंने सभी राजस्व अधिकारियों एवं अन्य संबंधित अधिकारियों को अपने-अपने स्तर पर लोकसभा निर्वाचन से संबंधित बैठक लेने के लिए कहा। जिले में ईव्हीएम मशीनों का प्रदर्शन कर मतदाताओं को जागरूक किया जा रहा है। इसकी सुरक्षा एवं आवश्यक रख-रखाव सुनिश्चित करें।

बैठक में उन्होंने मतदान सामग्री वितरण एवं वापसी के समय मतदान कर्मियों के ठहरने की व्यवस्था की भी जानकारी ली और कहा कि इसके लिए अभी से आवश्यक तैयारियां पूरी कर लेवे। इसके अलावा आदर्श आचार संहिता लागू होते ही संपत्ति विरूपण से संबंधित कार्रवाई करने के लिए संबंधित स्थानों का चिन्हांकन कर लेवे, ताकि समय पर कार्रवाई सुनिश्चित की जा सके।
समय-सीमा की बैठक में उन्होंने कहा कि मतदान केन्द्रों में रैंप की सुविधा, पेयजल की सुविधा, पानी की व्यवस्था, पर्याप्त एवं उपयुक्त फर्नीचर, उपयुक्त प्रकाश, विद्युत व्यवस्था, सहायता केन्द्रों की स्थापना, शौचालय एवं जरूरी छाया की व्यवस्था सुनिश्चित कर लेंवे।

इसके अलावा दिव्यांग मतदाताओं के लिए व्हील चेयर आदि की भी व्यवस्था होनी चाहिए। उन्होंने संगवारी मतदान केन्द्रों की सूची तत्काल उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। बैठक में उन्होंने लोक सेवा गारंटी के तहत लंबित प्रकरणों की समीक्षा करते हुए समय-सीमा में उनके निराकरण के निर्देश दिए।

बैठक में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. एस.बी. मंगरूलकर ने बताया कि पल्स पोलियो अभियान के तहत आगामी 10 मार्च 2019 को शून्य से पांच वर्ष के सभी बच्चों को 10 मार्च को पोलियो की दवा पिलाई जाएगी। उन्होंने बताया कि 11 एवं 12 मार्च 2019 को छुटे हुए बच्चों को भ्रमण कर पोलियो की दवा पिलाई जाएगी। उन्होंने बताया कि इस वर्ष जिले में लगभग 1296 पोलियों बूथों के माध्यम से शून्य से 5 वर्ष के लगभग एक लाख 11 हजार 930 बच्चों को पोलियो की दवा पिलाई जाएगी।

उन्होंने शिक्षा एवं महिला एवं बाल विकास विभाग से सहयोग का आग्रह किया। बैठक में राजस्व, कृषि, खाद्य, समाज कल्याण, आदिवासी विभाग सहित अन्य विभागों की विभागीय गतिविधियों एवं प्रगति की समीक्षा की। इसके अलावा विभिन्न आयोगों के प्राप्त पत्रों के निराकरण के निर्देश दिए। इस अवसर पर वनमंडलाधिकारी श्री आलोक तिवारी, अपर कलेक्टर मोहम्मद शरीफ खान, श्री आलोक पाण्डेय, संयुक्त कलेक्टर श्री शिवकुमार तिवारी सहित अन्य जिला स्तरीय वरिष्ठ अधिकारीगण उपस्थित थे।

Tags
Back to top button