केंद्र हटा सकती है लालू और अखिलेश को मिली एनएसजी सुरक्षा

नयी दिल्ली. केंद्र सरकार ने कई नेताओं को मिली एनएसजी सुरक्षा में कटौती करने की योजना बना रही. सूत्रों के मुताबिक डीएमके चीफ करुणानिधि, अखिलेश यादव और लालू प्रसाद यादव को मिली एनएसजी सुरक्षा को हटाया जा सकता है.

सरकार के आगे ये प्रस्ताव सुरक्षा समीक्षा समूह ने रखा था जिसे अब गृह मंत्री राजनाथ सिंह मंजूरी दे सकते हैं. राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड की समीक्षा हर साल की जाती है और ये देखा जाता है कि किसे इस सुरक्षा की ज्यादा जरूरत है. ये देखना सुरक्षा समीक्षा समूह का काम है.

अभी तक 15 राजनेताओं को ये सुरक्षा उपलब्ध है जिनमें राजनाथ सिंह और लाल कृष्ण अडवाणी शामिल हैं. इस सुरक्षा के तहत राजनेताओं की सुरक्षा एनएसजी कमांडो गार्ड करते हैं. इसके साथ एक बुलेट प्रूफ वाहन, 40 जवान और दो एस्कॉर्ट वाहन उपलब्ध कराए जाते हैं.

गौरतलब है कि एनएसजी ने इस बात की अपील की थी इस सुरक्षा का लाभ उठाने वाले लोगों की संख्या में कटौती की जाए. भारत में सुरक्षा की 4 टुकड़ियां हैं. जेड प्लस, जेड, वाई और एक्स. जिन्हें एनएसजी सुरक्षा दी जाती है वो जेड प्लस कैटिगरी में आते हैं. प्रधानमंत्री और पूर्व प्रधानमंत्रियों को विशेष सुरक्षा समूह गार्ड करता है.

Back to top button