नमाज अदा करने के मुद्दे पर हो रही राजनीति: खट्टर

चंडीगढ़. हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि खुले स्थानों पर मुसलमानों के नमाज अदा करने के मुद्दे का कुछ लोग राजनीतिकरण कर रहे हैं. शनिवार को चंडीगढ़ में एक कार्यक्रम में उन्होंने कहा, ‘खुली जगह में मुसलमानों के नमाज अदा करने का मामला राजनीतिक नहीं सामाजिक है.

इस मुद्दे का कुछ लोगों द्वारा राजनीतिकरण किया जा रहा है और उसे गलत दिशा में ले जाया जा रहा है. किसी को भी धार्मिक भावनाएं आहत करने का हक नहीं है. और ऐसे मामले शांतिपूर्ण वार्ता के जरिए ही हल किया जा सकता है.’

खट्टर ने कहा कि मुसलमानों समेत सभी समुदायों की जनसंख्या बढ़ रही है. उन्होंने कहा, ‘प्रार्थना करने वालों की संख्या बढ़ने के साथ ही उपासना स्थलों की संख्या घट गयी है.’ गुरुग्राम जिला प्रशासन ने ऐसे 37 जगहों की पहचान की है जहां मुसलमान नमाज अदा सकते हैं. इसके सिवा वो मस्जिद, ईदगाह और निजी स्थानों पर नमाज अदा कर सकते हैं.

बता दें कि पिछले महीने गुरुग्राम के सेक्टर 53 में मुसलमानों के खुले में नमाज पढ़ने का कुछ लोगों ने विरोध किया था. यहां तक कि नमाज पढ़ रहे लोगों को धमकाकर वहां से हटा दिया गया था.

नमाज पढ़ने को लेकर पैदा हुए विवाद पर मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि इसे मस्जिद या ईदगाह में पढ़ना चाहिए न कि सार्वजनिक जगहों पर. हालांकि बाद में सीएम खट्टर ने अपने बयान से यू-टर्न लेते हुए कहा था कि यदि कोई नमाज पढ़ने में बाधा पहुंचाता है तो उसके खिलाफ प्रशासन कार्रवाई करेगा.

advt
Back to top button