अहमद पटेल के अस्पताल में काम करता था पकड़ा गया आतंकी: विजय रूपाणी

गुजरात में चुनाव से पहले बीजेपी और कांग्रेस के बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर तीखा हो चला है. सीएम विजय रूपाणी ने कांग्रेस नेता अहमद पर पटेल पर बड़ा आरोप लगाया है.

उन्होंने कहा है कि गुजरात एटीएस ने जिन दो आतंकवादियों को गिरफ्तार किया है, उनमें से एक अहमद पटेल के अस्पताल में काम करता था.

शुक्रवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर उन्होंने यह आरोप लगाया और राज्यसभा सांसद अहमद पटेल से पूरे मामले पर सफाई देने को कहा.

विजय रूपाणी ने कहा कि ‘गुजरात एटीएस ने भरूच से दो आतंकवादियों को गिरफ्तार किया है. उनमें से एक आतंकवादी अहमद पटेल के संचालन में चल रहे अंकलेश्वर के सरदार पटेल अस्पताल में काम करता था. गिरफ्तारी से दो दिन पहले उसने अस्पताल से इस्तीफा दिया है.’

हाल ही में गुजरात एटीएस ने भरूच से ISIS के दो आतंकवादियों को गिरफ्तार किया था.

रूपाणी ने कहा कि ‘पूछताछ में पता चला कि इन दोनों आतंकवादियों का मकसद हिंदू धर्मगुरुओं पर हमला करना और यहूदी स्थलों को भी निशाना बनाना था.’

पटेल ने कहा बेबुनियाद हैं आरोप

इधर गुजरात से राज्यसभा सांसद और कांग्रेस नेता अहमद पटेल ने कहा कि यह आरोप पूरी तरह निराधार है. आतंकवादियों का गिरफ्तार होना राष्ट्रीय सुरक्षा का मामला है. चुनाव को देखते हुए बीजेपी इसका राजनीतिकरण कर रही है.

वहीं कांग्रेस के प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि विजय रूपाणी चुनाव से पहले अपनी असफलता को छुपाना चाहते हैं. यही वजह है कि इस तरह के आरोप लगा रहे हैं.

प्रेस कॉन्फ्रेंस में सीएम रूपाणी ने कहा कि ‘अहमद पटेल इस अस्पताल का संचालन करते रहे हैं और इसके ट्रस्टी भी रहे हैं. 2016 में उन्होंने इस अस्पताल के उद्घाटन के मौके पर राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को आमंत्रित किया था. इस भव्य कार्यक्रम में वे मंच पर भी रहे.’

सीएम रूपाणी ने अहमद पटेल से राज्यसभा की सदस्यता से इस्तीफा मांगते हुए कहा कि पटेल और कांग्रेस इस गंभीर मुद्दे पर अपनी सफाई दें.

advt

Back to top button