छत्तीसगढ़

थम गया चुनाव अभियान, सोमवार को पहले चरण का मतदान

नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में होने वाले मतदान पर चुनाव आयोग के साथ ही देश-दुनिया की नजर

रायपुर/जगदलपुर/राजनांदगांव। छत्तीसगढ़ में पहले चरण का चुनाव प्रचार अभियान थम चुका है। राज्य के बस्तर और राजनांदगांव क्षेत्र की 18 विधानसभा सीटों के लिए 12 नवंबर सोमवार को मतदान होगा। पहले चरण के लिए धुआंधार प्रचार अभियान जारी था, लेकिन मतदान के 2 दिन पहले ये चुनावी शोर थम गया। अब प्रत्याशी घर-घर जाकर बिना किसी शोर-शराबे के अब भी प्रचार कर सकेंगे। इसी के साथ विधानसभा क्षेत्र से बाहर के लोगों को यहां से जाने का आदेश प्रभावी हो जाएगा।

राज्य के अतिसंवेदनशील नक्सल प्रभावित इन क्षेत्रों में सबसे पहले मतदान करवाए जा रहे हैं। सभी मतदान दल अपने गंतव्य के लिए रवाना हो चुके हैं। चुनाव के दौरान नक्सल हिंसा की आशंका को देखते हुए इन विधानसभा क्षेत्रों के चप्पे-चप्पे पर सुरक्षा बल के जवानों को मुस्तैद किया गया है।

प्रथम चरण के 18 सीटों के लिए होंगे मतदान
1 – खैरागढ़
2 – डोंगरगढ़
3 – राजनांदगांव
4 – डोंगरगांव
5 – खुज्जी
6 – मोहला-मानपुर
7 – अंतागढ़
8 – भानुप्रतापपुर
9 – कांकेर
10 – केशकाल
11 – कोण्डागांव
12 – नारायणपुर
13 – बस्तर
14 – जगदलपुर
15 – चित्रकोट
16 – दन्तेवाड़ा
17 – बीजापुर
18 – कोन्टा

advt