2019 की पोपुलर क्वीन ऑफ़ यूनिवर्स क्राउनिंग से नवाज़ा गया पूनम बाजपेयी को !

रायपुर। शानदार, ईमानदार और बेहद प्रतिभाशाली …ऐसे कुछ शब्द हैं, जो पूनम बाजपेयी के लिए इस्तेमाल किये जा सकते हैं, उन्होंने 2019 की पोपुलर क्वीन ऑफ़ यूनिवर्स क्राउनिंग से नवाजा गया है अपने दोस्तों और रिश्तेदारों को बहुत गौरवान्वित महसूस कराया है।

वह मिसेज इंडिया प्राइड ऑफ नेशन 2017 की टाईटल विजेता भी रही हैं। यह सूची यहीं समाप्त नहीं होती है बल्कि उन्होंने महानगर ग्लोबल अचीवर पुरस्कार प्राप्त किया है, पूनम बाजपेई एक ऑल राउंडर महिला हैं जिन्होंने किसी भी क्षेत्र को अछूता नहीं छोड़ा है, उन्हें हमेशा से मॉडलिंग का शौक रहा है, वह एक मॉडल और एक बेहतरीन इमेज की सलाहकार भी है, साथ ही साथ एक उद्यमी है, अपनी एक एनजीओ चलाती हैं साथ ही उन्हों ने कई मॉडल को भी प्रशिक्षित किया है.

एक भारतीय एयरफोर्स अधिकारी की बेटी होने के नाते, वह अपने काम के बारे में बहुत दृढ़ है, चाहे वह स्कूल की बात हो या कॉलेज की उन्होंने अपने माता-पिता को गर्व महसूस कराया है। और अब यह वह राष्ट्र के लिए कर रही हैं और हम सभी को उनके कामों पर गर्व है।

इतने बड़े मंच पर प्रतिस्पर्धा करना और पहचान हासिल करना और इतना बड़ा पुरस्कार कोई छोटी बात नहीं है। वह हमेशा बड़ी योजनाओं और लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए प्रयत्नशील रहती है। वह एक ऐसी शख्सियत हैं, जो न सिर्फ फैशन और इमेज कंसल्टेंसी के बारे में प्रचार करती हैं, बल्कि अपने ज्ञान और कौशल का परीक्षण करके न केवल ऐसे वैश्विक इवेंट्स में भाग लेती रहती हैं, बल्कि विजेता भी बनी थी ।

इस प्रतियोगिता को जीतने पर उन्होंने अपने विचारों को व्यक्त किया है कि वह कितनी खुश थी और अपनी सफलता का श्रेय अपने सभी शुभचिंतकों और ऐसे लोगों को देती है, जिन्होंने उनके लिए पेजेंट में वोट दिया था ” मैं पूरे दिल से धन्यवाद देती हूं दलजीत जी और गहलोत जी का , पोपुलर क्वीन ऑफ़ यूनिवर्स की सीइओ हैं, जिनके बिना मैं इस शो का हिस्सा नहीं होती और हमेशा पूरे आयोजन में उन्होंने मेरा सपोर्ट किया और पूरी कमेटी को उनके समर्थन के लिए मैं शुक्रिया अदा करती हूँ जिन्होंने मुझे इस सम्मान के लिए चुना.

और मुझे माहानगर ग्लोबल अचीवर अवार्ड से सम्मानित होने का सौभाग्य भी दिया । इस पुरस्कार ने मुझे खुद को बेहतर बनाने में मदद की, आत्मविश्वास से मुझे बहुत पहचान मिली और इससे मेरा मनोबल और आत्मविश्वास भी बढ़ा। इसने मुझे इतने कम समय में बहुत कुछ सीखने में मदद की। मैं अपनी मेहनत से आपको और अधिक गर्व महसूस कराने का वादा करती हूँ। ”

Back to top button