छत्तीसगढ़

मुख्यमंत्री शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना से गरीब परिवारों को मिल रहा निशुल्क उपचार

डेढ़ लाख से ज्यादा मरीजों ने कराया इलाज

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की पहल से शहरी क्षेत्र के स्लम इलाकों में रहने वाले गरीब परिवारों के निःशुल्क उपचार की व्यवस्था की गई है। मुख्यमंत्री शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना के माध्यम से मोबाइल मेडिकल यूनिट प्रदेश के 14 नगर निगम क्षेत्र के अलग-अलग वार्डों में पहुंच कर लोगों का इलाज कर रही है।

प्रदेश के 14 नगर निगमों में अभी तक 2823 स्थानों पर मोबाइल मेडिकल यूनिट द्वारा कैंप आयोजित किया गया है। इन कैंपों के माध्यम से एक लाख 54 हजार 616 मरीजों का स्वास्थ्य जांच, 40 हजार 634 मरीजों का लैब टेस्ट, एक लाख 33 हजार 223 मरीजों को दवा का वितरण, किया गया है। सबसे अधिक कैंप रायपुर नगर निगम में 792, कोरबा में 306, बिलासपुर में 230, राजनांदगांव और दुर्ग में 223-223 कैंप लगाया गया है।

इस योजना के तहत स्लम क्षेत्र के निवासियों के स्वास्थ्य की जांच, उपचार, दवा वितरण एवं स्वास्थ्य परामर्श सुविधा निःशुल्क दिया जा रहा है। यूनिट में ओपीडी, प्रयोगशाला जांच के साथ दवा वितरण और लैब में 41 प्रकार के स्वास्थ्य जांच की सुविधा उपलब्ध है। मोबाइल मेडिकल यूनिट (एमएमयू) द्वारा अभी तक सबसे अधिक 792 कैंप रायपुर नगर निगम में लगाया गया है।

जहां 41 हजार 226 मरीज लाभान्वित हुए हैं। बिलासपुर में 230 कैंप में 17 हजार 794 मरीज लाभान्वित हुए हैं। दुर्ग में 12 हजार 89, कोरबा में 15 हजार 409, राजनांदगांव में 10 हजार 277 मरीज और भिलाई में 10 हजार 419, रायगढ़ में 9 हजार 543 मरीज लाभान्वित हुए हैं।

इसी प्रकार नगरीय निकाय क्षेत्र बिरगांव में लगाए गए 82 कैम्प में 4 हजार 698, धमतरी में आयोजित 88 कैम्पों में 5 हजार 324, रिसाली में 109 कैम्प में 5 हजार 512, भिलाई-चरौदा में 111 कैम्प में 5 हजार 695, अम्बिकापुर में 110 कैम्प में 6 हजार 854, चिरमिरी में 52 कैम्प में 2 हजार 989 और जगदलपुर में आयोजित 158 कैम्प में 6 हजार 787 मरीजों को लाभ मिला है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button