तीन दिन से पानी के लिए तरस रहे मरीज, जिला अस्पताल में हंगामा

प्रदीप दीवान :

बिलासपुर : जिला अस्पताल के आइशुलेसन और आई वार्ड में तीन दिन से पानी सप्लाई बंद है। मरीजों को पीने तक के लिए पानी नसीब नहीं हो रहा है। इससे नाराज मरीज व उनके परिजन ने गुरुवार को जमकर हंगामा मचाया।

प्रभावित दोनों वार्ड में डायरिया के मरीजों को भर्ती किया गया है। इनको लगातार उल्टी.दस्त हो रही है। इन्हें बार-बार पानी की जरूरत पड़ती है। लेकिन पिछले तीन दिन से दोनों वार्ड में एक बूंद पानी नहीं आया है।

पाइप लाइन में खराबी आने के कारण यह समस्या हो रही है। ऐसे में मरीजों को पीने के पानी के लिए नीचे के तल पर जाना पड़ता है। लगातार हो रही समस्या भड़के मरीज व परिजन हंगामा मचाने लगे। इसके बाद अस्पताल प्रबंधन ने तत्काल व्यवस्था सुधारने का आश्वासन देकर उन्हें शांत कराया।

दो नई टंकी लगेगी

जिला अस्पताल में विभिन्न वार्डों में पानी की सप्लाई चार टंकी से होती है। लेकिन मरीजों की संख्या के अनुसार इसकी क्षमता कम है। शाम होते ही पानी खत्म हो जाता है।

ऐसी समस्या आए दिन होती है। मोटर से पानी भरने में एक से दो घंटे लग जाते हैं। इस समस्या को दूर करने के लिए 2500 लीटर की क्षमता वाली दो नई टंकी खरीदी जा रही है।

आरओ वाटर प्लांट भी खराब

अस्पताल के दूसरे तल में आरओ वाटर प्लांट लगाया गया है। इसी के बाजू में आइशुलेसन वार्ड है। लेकिन यह वाटर प्लांट महीनों से बंद पड़ा है। इसकी वजह से मरीजों को शुद्ध पानी की आपूर्ति नहीं हो पा रही है।

मरीज का हाल बेहाल

आई वार्ड में भर्ती मरीज के परिजन में श्यामरतन साहूए रोहित बंजारेए कचरा बाईए रथराम लोहार ने बताया कि तीन दिन से टायलेट तक में पानी नहीं है। इससे दस्त के मरीजों को सबसे ज्यादा दिक्कत हो रही है। पीने के पानी के लिए बॉटल लेकर बार.बार नीचे जाते हैं। नहाने व अन्य कार्य के लिए सुलभ शौचालय का सहारा लेना पड़ता है।

पानी की दिक्कत दूर करने प्लंबर बुलाया गया है। जल्द ही वार्ड में पानी की सप्लाई शुरू हो जाएगी।
डॉ. एसएस भाटिया

new jindal advt tree advt
Back to top button