आबादी बोझ नहीं बल्कि लाभांश है, इसका सदुपयोग करो -राजनाथ सिंह

सिंह ने ‘उत्तर प्रदेश गौरव सम्मान‘ समारोह को सम्बोधित करते हुए कहा

लखनऊ : केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने ‘उत्तर प्रदेश गौरव सम्मान‘ समारोह को सम्बोधित करते हुए कहा कि आबादी कोई बोझ नहीं बल्कि एक लाभांश है और उसका सही इस्तेमाल किया जाना चाहिये।

उत्तर प्रदेश को चार हिस्सों में बांटने की मांग के स्वर फिर तेज होने के बीच केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने इसे अवांछित बताते हुए रविवार को कहा कि आबादी के लिहाज से चीन के बाद भारत सबसे बड़ा देश है और यह मुल्क भी तब तक विकसित नहीं हो सकता, जब तक इसके टुकड़े ना किये जाएं।

उन्होंने कहा ‘‘जनसंख्या को कभी बोझ नहीं माना जाना चाहिये। यह एक डेमोग्रैफिक डिविडेंट (जनसांख्यिकीय लाभांश) है। जनसंख्या हमारी श्रमशक्ति है। इसका उपयोग कैसे किया जाए और हम देश के विकास में उसका अधिकतम योगदान कैसे सुनिश्चित कर सकते हैं, इसकी तकनीक खोजने की जरूरत है। अनावश्यक परेशान होने की जरूरत नहीं है।’’

गृह मंत्री ने कहा ‘‘हमारा उत्तर प्रदेश एक ऐसा राज्य है जिसमें न तो प्राकृतिक सम्पदा की कमी है और न ही आवश्यक संसाधनों की। इसके बंटवारे की जरूरत नहीं है।’’ सिंह ने इस मौके पर विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट योगदान करने वाली 24 हस्तियों को ‘उत्तर प्रदेश गौरव सम्मान‘ से नवाजा।

advt
Back to top button