अपने घर में खोल सकते हैं पोस्ट ऑफिस

आप अपने घर या संस्थान से डाकघर चला सकते हैं। डाक विभाग इसके लिए फ्रेंचाइजी का फार्मूला लेकर आया है। यह फ्रेंचाइजी कोई भी व्यक्ति अथवा संगठन ले सकता है। इसमें न केवल मनी ऑर्डर बल्कि रजिस्ट्री, स्पीड पोस्ट भी कर सकते हैं। डाक विभाग की ओर से इसके लिए बाकायदा कमीशन भी देगा।

स्टांप व स्टेशनरी की सेल, रजिस्टर्ड आर्टिकल, स्पीड पोस्ट आर्टिकल, मनी ऑर्डर की बुकिंग। पोस्टल लाइफ इंश्योरेंस के एजेंट बन सकते हैं और आफ्टर सेल सर्विसेज जैसे प्रीमियम आदि एकत्र कर सकते हैं। इसके अलावा डाक विभाग की रिटेल सर्विस जैसे बिल, टैक्स, फाइल कलेक्शन, पेमेंट सर्विसेज भी उपलब्ध करा सकते हैं। ई-गवर्नेंस की सुविधा भी दे सकते हैं। इन सभी सर्विसेज से कमाई होगी।

पोस्ट ऑफिस की ओर से कमीशन भी निर्धारित किए गए हैं। रजिस्टर्ड आर्टिकल पर 3 रुपये, स्पीड पोस्ट बुकिंग पर 5 रुपये, मनी ऑर्डर 100-200 रुपये पर 3.50 रुपये, 200 से अधिक 5 रुपये, 1000 आर्टिकल से ज्यादा रजिस्ट्री पर 20 प्रतिशत, पोस्टेज स्टांप और पोस्टल स्टेशनरी पर कुल सेल का 50 प्रतिशत और रिटेल सर्विसेज, रेवेन्यू स्टांप, सेंट्रल रिक्रूटमेंट फीस पर 40 प्रतिशत का कमीशन मिलेगा।

इसकी फ्रेंचाइजी लेने के लिए राजपुर रोड स्थित सीनियर सुप्रीटेंडेंट पोस्ट ऑफिसर कार्यालय में फॉर्म मिलता है। फार्म भरने के बाद एक नंबर दे दिया जाएगा।

चीफ पोस्ट मास्टर जेपी सेमवाल ने बताया कि इसके लिए करीब दस हजार रुपये सिक्योरिटी फीस भी जमा करानी होगी। इसकी शर्त यह है कि जहां आप फ्रेंचाइजी लें, उसके तीन किलोमीटर के दायरे में कोई और डाकघर न हो। एक से दो लाख रुपये का खर्च डाक विभाग के उत्पाद खरीदने में आ सकता है। डाक विभाग की यह भी शर्त है कि कम से कम 50 हजार रुपये प्रतिमाह का बिजनेस करना होगा।

Back to top button