प्रज्ञा ठाकुर भाजपा की आउटसोर्सिग प्रत्याशी : रिजवी

रायपुर। जकांछ कोर गु्रप के सदस्य एवं मध्यप्रदेश पाठ्य पुस्तक निगम के पूर्व अध्यक्ष इकबाल अहमद रिजवी ने संघ समर्थित भोपाल लोकसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा ठाकुर को मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री श्री दिग्विजय सिंह के विरूद्ध अचानक औवतरित प्रज्ञा ठाकुर को प्रत्याशी बनाये जाने पर कहा है कि प्रज्ञा ठाकुर को लोकसभा चुनावी समर में भाजपा ज्वाईन करते ही भाजपा के कार्यकर्ताओ एवं नेताओ को ठेंगा दिखाते हुये प्रत्याशी घोषित कर दिया गया है, जो यह सिद्ध करता है कि प्रज्ञा ठाकुर भाजपा की आउटसोर्सिग प्रत्याशी है। भाजपा के पास भोपाल से खड़ा करने कोई बेदाग चेहरा नही है। आम चर्चा है कि भाजपा भोपाल लोकसभा चुनाव में उन्मादी वातावरण निर्मित कर मतों का धु्रवीकरण कर अपना स्वार्थ सिद्ध करना चाहती है।

रिजवी ने कहा है कि भोपाल की जनता जागरूक एवं समझदार है तथा वह अपनी सांस्कृतिक विरासत गंगा-जमनी तहजीब को अवश्य बनाये रखेगी। भाजपा द्वारा चुनावी माहौल को विस्फोटक बनाने के लिए ही प्रज्ञा ठाकुर को उम्मीदवार बनाया गया है। प्रज्ञा ठाकुर मालेगांव ब्लास्ट में आरोपी है और स्वास्थगत कारणों से जमानत पर है। प्रज्ञा ठाकुर सन् 2007 में आरएसएस के प्रचारक सुनील जोशी हत्याकांड में भी आरोपी थी, जो सर्व विदित है।

मालेगांव ब्लास्ट में 9 साल तक प्रज्ञा ठाकुर जेल में निरूद्ध रही थी। आश्चर्य है कि भाजपा को पूर्व मुख्यमंत्री श्री दिग्विजय सिंह के विरूद्ध भाजपा प्रत्याशी के रूप में कोई साफ-सुथरा, बेदाग व्यक्ति नही मिल सका है। भोपाल लोकसभा की जनता साफ-सुथरे बेदाग एवं धर्म निरपेक्ष दिग्विजय सिंह को ही चुनकर लोकसभा में भेजेगी। लब्बोलुबाब यह है कि भोपाल सहित सम्पूर्ण भारत में कांग्रेस का पलड़ा भारी है।

Back to top button