कर्ज माफी से किसानों को मिली प्राण वायु

जिले के 27791 किसानों को 113 करोड़ रूपए कृषि ऋण माफी का मिला लाभ, अब किसान खेत मरम्मत, नलकूप खनन, पक्का मकान बनाने में लगे

– मनीष शर्मा

मुंगेली: किसानों के ऋण माफी हो जाने से कर्ज चुकाने की चिंता दूर होने के साथ-साथ जीने के लिए प्राण वायु एवं ताकत मिली है। अब किसान खेत मरम्मत, खेतों में नलकूप खनन और पक्का मकान बनाने में लग गये है। मुंगेली जिले के 27791 किसानों को खेती किसानी, खाद बीज एवं किसान क्रेडिट कार्ड में लिए बैंको और सोसायटियों से लिए गए 113.09 करोड़ रूपए का ऋण माफ हो गया है।v

मुंगेली विकासखण्ड के ग्राम उसलापुर के 62 वर्षीय कृषक संतोष सिंह ने बताया कि उन्हें 3 लाख 7 हजार 900 रूपए ऋण माफी का लाभ मिला है। इस वर्ष शासन द्वारा निर्धारित समर्थन मूल्य पर 400 क्विंटल धान की बिक्री भी किया है। उन्होने बताया कि धनहा खेत मरम्मत का काम करवा रहा है। पत्नी के लिए गहने भी खरीदें है।

ग्राम भटगांव के कृषक प्रशांत कुमार दुबे ने बताया कि कर्ज माफी योजना से उन्हें 56 हजार 363 रूपए का फायदा मिला है। नया पक्का मकान बनाने और बच्चों की पढ़ाई में पैसे काम आया। इसी तरह ग्राम उसलापुर के जरा सिंह ने बताया कि उन्हे एक लाख रूपए से अधिक कर्ज माफी का लाभ मिला है।

पुराना कर्ज भी चुका दिया है, अब चिंता दूर हो गई है। ग्राम फंदवानी के 39 वर्षीय किसान कनक राम साहू ने बताया कि छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा ऋण माफी की घोषणा किये जाने से उन्हें 48 हजार 500 रूपए का फायदा मिला। उक्त राशि खेती बाड़ी मरम्मत, पक्का मकान बनाने एवं बच्चों की पढ़ाई लिखाई में लगा रहा है।

ग्राम फंदवानी के ही मुरारी लाल साहू ने बताया कि खाद बीज सोसायटी से लिया था। जिसका 10 हजार रूपए ऋण माफी हुआ है। शासन द्वारा निर्धारित समर्थन मूल्य पर 15 क्विंटल सोसायटी में धान बेचा है। जिसका 37 हजार 500 रूपए प्राप्त हो गया है। खेतों का मरम्मत कार्य और घर की माली हालत सुधारने में लगा है।

ग्राम बिरगांव के 50 वर्षीय संतोष सोनकर ने बताया कि कर्ज माफी योजना से 45 हजार रूपए का लाभ प्राप्त हुआ है। पक्का मकान बनाने, बच्चों को पढ़ाने और गहने खरीदने में काम आ रहा है। इस प्रकार कर्ज माफी हो जाने से किसानों की चिंता दूर हो गई है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को धन्यवाद भी दे रहे है और शासन की योजना की सराहना कर रहे है।

Back to top button