क्राइम

प्रिटी जिंटा छेड़छाड़ मामलाः पुलिस ने दायर की 500 पेज की चार्जशीट

गौरतलब है कि जून 2014 में प्रिटी जिंटा ने मरीन ड्राइव पुलिस थाने में नेस वाडिया के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई थी

प्रिटी जिंटा छेड़छाड़ मामलाः पुलिस ने दायर की 500 पेज की चार्जशीट

किंग्स इलेवन पंजाब की सह मालकिन और फिल्म एक्ट्रेस प्रिटी जिंटा द्वारा अपने एक्स बॉयफ्रेंड नेस वाडिया के खिलाफ छेड़छाड़ व मारपीट की शिकायत दर्ज कराने के लगभग साढ़े तीन साल बाद पुलिस ने स्थानीय अदालत में चार्जशीट दायर की है।
[responsivevoice_button voice=”Hindi Female” buttontext=”अगर आप पढ़ना नहीं
चाहते तो क्लिक करे और सुने”]
एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया, ‘हमने मंगलवार को नेस वाडिया के खिलाफ चार्जशीट दायर की है, जो लगभग 500 पेज की है।’ हाई प्रोफाइल मामला होने की वजह से सभी पुलिस अधिकारी मामले पर चुप्पी साधे हुए हैं।

गौरतलब है कि जून 2014 में प्रिटी जिंटा ने मरीन ड्राइव पुलिस थाने में नेस वाडिया के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई थी। उन्होंने आरोप लगाया था कि 30 मई को वानखेड़े स्टेडियम में चेन्नई सुपरकिंग्स और किंग्स इलेवन पंजाब के बीच मैच के दौरान नेस ने उनके साथ खींचतान और गाली-गलौच की। गौरतलब है कि 10 साल तक लिव-इन-रिलेशनशिप में रहने वाले प्रिटी और नेस 2009 में अलग हो गए थे।

प्रिटी ने आरोप लगाया कि मैच के दौरान करीब रात 9 बजे नेस ने उन्हें गालियां देना शुरू कर दीं। गालियां देने से मना करने पर नेस ने प्रिटी को धमकाना शुरू कर दिया। उनके समझाने पर भी जब नेस नहीं रुके तो प्रिटी ने बीच में ही मैच छोड़ने का फैसला किया। जब वह जाने के लिए उठीं तो नेस ने उनका हाथ पकड़कर खींचा। नेस ने मैच देखने आए तमाम लोगों के सामने प्रिटी के साथ खींचतान और गाली-गलौच करनी शुरू कर दी।

घटना के तकरीबन 13 दिन बाद गुरुवार रात प्रिटी जिंटा मरीन ड्राइव थाने पहुंचीं और अपना बयान दर्ज कराया। इसके बाद पुलिस ने नेस के खिलाफ आईपीसी की धारा-354, 509, 504 और 506 के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया।

इस हाई प्रोफाइल मामले की जांच से जुड़े एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि मारिया को सौंपे पत्र में प्रिटी ने लिखा, ‘कुछ समय से नेस का व्यवहार मेरे प्रति काफी आक्रामक हो गया था। मेरे चेहरे पर जलती हुई सिगरेट फेंकने के अलावा उसने मुझे कमरे में बंद कर दिया और मेरे साथ मारपीट भी की। मैंने ये सबकुछ झेला।’

हालांकि, वाडिया के करीबी सूत्रों के मुताबिक, सारे आरोप मनगढ़ंत और बेबुनियाद हैं। यह नेस की छवि को नुकसान पहुंचाने की सोची समझी रणनीति है।

Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.