बिलासपुर शहर में जोर-शोर से शुरू हुई क्रिसमस की तैयारी

मनमोहन पात्रे

बिलासपुर।

मशीही जनों का सबसे बड़ा त्यौहार क्रिसमस को माना जाता है जो कि हर साल 25 दिसंबर को मनाया जाता है.. कहते हैं इसी दिन प्रभु यीशु का जन्म हुआ था जिनके जन्म दिवस को क्रिसमस के त्योहार के रूप में मनाया जाता है।

क्रिसमस का पर्व करीबी है और लोग इसकी तैयारी में जुट गए हैं ऐसे में बाजार भी गुलजार हो चले हैं और लोग खरीददारी करने दुकान पर पहुंच रहे हैं यूं तो यहां सजावट के हर तरह के आइटम लोगों को मिल जाते हैं लेकिन जो आइटम नहीं मिलते वह तारबहार चौकी स्थित एंथोनी क्रिसमस डेकोरेशन में उपलब्ध है..

यहां त्यौहार को देखते हुए चरण सेठ, क्रिसमस ट्री, कैप, बैल, सांता क्लॉस के खिलौने और ड्रेसेस भी उपलब्ध है जिन की ढेरों वैरायटी आम लोगों को अपनी ओर आकर्षित कर रही हैं वहीं संचालक की माने तो येजो पूरा सामान कोलकाता चाइना मार्केट से मंगाते हैं जिनकी पूछ परख काफी बढ़ गई है.

एंथोनी क्रिसमस डेकोरेशन में लोग बड़ी संख्या में खरीददारी करने पहुंच रहे हैं जिसमें मसीही जनों के अलावा दूसरे समुदाय के लोग भी शामिल हैं बरहाल क्रिसमस का पर्व करीबी है और ऐसे में लोग इसकी खुशियां मनाने और घरों को सजाने में जुटे हुए हैं।

new jindal advt tree advt
Back to top button