चुनाव से पहले किया जाएगा गुंडे-बदमाशों को जिला बदर, नकेल कसने तैयारी शुरू

पुलिस ने कई गुंडे-बदमाशों की लिस्ट तैयार की

बिलासपुर: पुलिस ने कई गुंडे-बदमाशों की लिस्ट तैयार की है। इसे जिला प्रशासन के पास भेज दिया गया है। इसके अलावा 30 से अधिक एेसे और गुंडे-बदमाश हैं, जिनकी वर्तमान में लगातार शिकायतें मिल रही हैं। उनकी अपराधिक गतिविधियों में सुधार नहीं आया है। पुलिस अब उन्हें भी जिलाबदर करने की तैयारी में है।

इसके लिए सभी थानेदारों से उनके रिकार्ड मंगाए जा रहे हैं। इसी तरह लाइसेंसी हथियार जमा करने के भी निर्देश दिए गए हैं। बिलासपुर शहर में 200 से अधिक गुंडा-बदमाश है। इनमें से अधिकांश निगरानी बदमाश हैं।

बिलासपुर में पिछले कुछ माह से अलग-अलग हिस्सों में लगातार एेसी घटनाओं को अंजाम दिया जा रहा है, जिससे सामुदायिक और सामाजिक सौहार्द बिगडऩे की नौबत आ जाती है। चुनाव में भी इस तरह की स्थितियां बन सकती है। पुलिस एेसे लोगों की जानकारी जुटा रही है, जो शांति व्यवस्था बिगाड़ते हैं।

शराब कोचियों की लिस्ट तैयार :

शहर और ग्रामीण इलाके में अवैध रूप से शराब बेचने वालों की संख्या बढ़ती जा रही है। पुलिस शहर में रोज तीन से चार शराब तस्करों को पकड़ रही है। इसके बावजूद तस्करी नहीं थम रही है।

चुनाव के दौरान इनकी भूमिका अहम हो जाती है। इसके चलते पुलिस उनकी अलग से सूची बना रही है, जिसमें पुराने शराब तस्करों के नाम है। इसके अलावा पुराने शराब ठेकेदारों के कारोबार पर भी नजर रखना शुरू कर दिया है।

नेताओं का संरक्षण :

बिलासपुर में कई नेता एेसे हैं, जिनके आसपास गुंडे-बदमाश मंडराते रहते हैं। नेता अपने काम के लिए इनका इस्तेमाल करते हैं। शराब, पैसा बांटने से लेकर दूसरों को धमकी, मारपीट, वसूली का पूरा काम यही करते हैं। निगरानी बदमाशों में कई लोग राजनीतिक दलों से भी जुडऩे का पता चला है।

आधे हथियार भी जमा नहीं

बिलासपुर जिले में करीब 12 सौ लाइसेंसी हथियार हैं। चुनाव के मद्देनजर पुलिस ने लाइसेंसी हथियार और कारतूस जमा कराने के निर्देश दिए हैं। अभी तक केवल 200 सौ हथियार ही संबंधित थानों में जमा हुए हैं। इसमें सुरक्षा से जुड़े लोगों को राहत दी जा रही है। उल्लेखनीय है कि जिले में कई एेसे लोगों ने हथियार ले लिया है, जिनको उतनी आवश्यकता नहीं है।

गुंडे-बदमाशों की नई लिस्ट तैयार की जा रही है। इसमें नए बदमाशों को शामिल किया जाएगा। कुछ गुंडो का प्रस्ताव जिलाबदर के लिए भेजा गया है। ओमप्रकाश शर्मा , एएसपी-शहर, बिलासपुर

Back to top button