पिछले लोकसभा चुनाव को ध्यान में रख आयोग कर रहा तैयारी

रायपुर। लोकसभा चुनाव की तिथियां भले अभी घोषित न हो पर निर्वाचन आयोग ने अपनी तैयारियां तेज कर दी है। मतदाता सूची के अंतिम प्रकाशन के बाद आयोग पर स्वीप कार्यक्रम के साथ ही साथ इवीएम को दुरुस्त करने में जुटा है।

छत्तीसगढ़ की 11 सीटों में से आयोग आधे से अधिक सीटों पर दो या दो से अधिक बैलेट यूनिट का प्रयोग मानकर तैयारी कर रही है। पिछले लोकसभा निर्वाचन में राज्य में पांच सीटों पर दो या दो से अधिक बैलेट यूनिट का इस्तेमाल हुआ था जिसमें एक सीट पर तीन बैलेट यूनिट का इस्तेमाल हुआ था।

मुख्य निर्वाचन आयुक्त ने बताया कि लोकसभा चुनाव 2014 में राज्य की 11 सीटों में से पांच सीटों पर दो या दो से अधिक बैलेट यूनिट प्रयुक्त हुए थे। चार संसदीय सीटों पर दो बैलेट यूनिट तथा एक सीट पर तीन बैलेट यूनिट इस्तेमाल हुए थे। बताया कि आयोग पिछले चुनाव को आधार मानकर अपनी तैयारी कर रहा है।

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी सुब्रत साहू ने बताया आयोग के पास पर्याप्त इवीएम, वीवीपैट व बैलेट यूनिट हैं। उम्मीदवारों की संख्या के आधार पर इनका इस्तेमाल होना है। चार विधानसभा क्षेत्रों के परिणाम पर न्यायालय में याचिका होने के कारण इनका प्रयोग नहीं होना है। इनके स्थान पर झारखंड से इवीएम मंगाई गई है। नई इवीएम भी आयोग से प्राप्त हुई है। आयोग का दावा है कि 28 फरवरी तक इवीएम के प्रथम चरण की मानिटरिंग का कार्य पूर्ण हो जाएगा।

Back to top button