राष्ट्रपति ने 2021 के पद्म पुरस्कार प्रदान किए, एस. पी. बालासुब्रमण्यम, नरिंदर कपानी और मौलाना वहीदुद्दीन को मरणोपरांत पद्म विभूषण

राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने आज राष्ट्रपति भवन में आयोजित एक समारोह में प्रमुख हस्तियों को वर्ष 2021 के पद्म पुरस्कारों से सम्मानित किया। इस वर्ष की सूची में सात पद्म विभूषण, दस पद्मभूषण और 102 पद्मश्री पुरस्‍कार शामिल हैं। ये प्रतिष्ठित पुरस्‍कार दो चरणों में सुबह और शाम को प्रदान किए गए।

मूर्तिकार सुदर्शन साहू और पुरातत्वविद् प्रोफेसर ब्रजबासी लाल को पद्म विभूषण से सम्मानित किया गया। पार्श्‍व गायक एस. पी. बाला सुब्रह्मण्‍यम, भारतीय अमरीकी वैज्ञानिक डॉक्‍टर नरिंदर सिंह कपानी और विश्‍व प्रसिद्ध इस्‍लामी विद्वान और गांधीवादी मौलाना वाहिदुद्दीन खान को मरणोपरांत पद्म विभूषण सम्‍मान प्रदान किया गया।

असम के पूर्व मुख्‍यमंत्री तरूण गोगोई, पूर्व केन्‍द्रीय मंत्री रामविलास पासवान और गुजरात के पूर्व मुख्‍यमंत्री केशु भाई पटेल को मरणोपरांत पद्म भूषण से सम्‍मानित किया गया।

पद्म भूषण पाने वालों में पूर्व लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन, सेवानिवृत्त लोकसेवक नृपेन्द्र मिश्रा और प्रख्‍यात कन्‍नड़ लेखक डॉक्‍टर चन्‍द्रशेखर बी. काम्‍बर और सिख नेता सरदार तरलोचन सिंह को जनसेवा के लिए पद्म भूषण सम्‍मान दिया गया।

छह बार राष्‍ट्रीय पुरस्‍कार विजेता कर्नाटक संगीत और पार्श्‍व गायिका कृष्‍णन नायर शांता कुमारी चित्रा और इस्‍लामिक विद्वान तथा समाज सुधारक डॉक्‍टर सईद कल्बे सादिक को मरणोपरांत पद्म भूषण पुरस्‍कार दिया गया।

पद्मश्री सम्‍मान पाने वालों मे सामाजिक कार्यकर्ता लखिमी बरूआ, लोक संगीतकार गोपीराम बरगायन बूढ़ाभकत, कलाकार दुलारी देवी और अस्थि रोग विशेषज्ञ डॉक्‍टर बी. के. एस. संजय शामिल हैं।

इसके अलावा अंतर्राष्‍ट्रीय ख्‍याति प्राप्‍त भील चित्रकार भूरी बाई, टेबल टेनिस खिलाड़ी मौमा दास और पहलवान वीरेन्‍दर सिंह को भी पद्मश्री से सम्‍मानित किया गया है। गोवा की पूर्व राज्यपाल मृदुला सिन्हा को मरणोपरांत यह सम्मान दिया गया।

राष्ट्रपति ने कल 2020 के लिए पद्म पुरस्कार प्रदान किए थे। देश के प्रतिष्ठित नागरिक सम्मान, पद्म पुरस्कार तीन श्रेणियों में प्रदान किए जाते हैं – पद्म विभूषण, पद्म भूषण और पद्मश्री। ये पुरस्कार कला, समाज सेवा, विज्ञान, व्यापार, चिकित्सा, साहित्य, खेल और नागरिक सेवाओं सहित विभिन्न विषयों और क्षेत्रों में विशेष योगदान के लिए दिये जाते हैं।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button