राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का दौरा एक महिला उद्यमी के लिए पड़ा भारी, हुई मौत

जब राष्ट्रपति को इस घटना के बारे में पता चला तो उन्होंने अधिकारियों को लगाई फटकार

कानपुर:राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के कानपुर आगमन से कुछ देर पूर्व गोविंदनगर पुल पर रोके गए ट्रैफिक में IIA महिला विंग की अध्यक्ष वंदना मिश्रा 45 मिनट तक फंसी रहीं जिसके कारण उनकी हालत बिगड़ती गई और अस्पताल ने उन्हें मृत घोषित कर दिया.

जब महामहिम की ट्रेन ओवरब्रिज के नीचे से गुजरने वाली थी, उस समय ओवरब्रिज पर ट्रैफिक को कुछ समय के लिए रोक दिया गया. उस वजह से ट्रैफिक में फंसी IIA की अध्यक्ष वंदना मिश्रा की मौत हो गई. इस घटना से लोग तो हैरान हुए ही, खुद राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने भी नाराजगी व्यक्त की.

जानकारी मिली है कि जब रामनाथ कोविंद को इस घटना के बारे में पता चला तो उन्होंने अधिकारियों को फटकार लगाई. कानपुर के डीएम आलोक तिवारी और पुलिस कमिश्नर असीम अरुण को सर्किट हॉउस में सुबह बुलाकर पहले पूरी जानकारी ली और फिर मृतक वंदना मिश्रा के प्रति अपनी शोक संवेदना व्यक्त करने के लिए दोनों अधिकारियों को तुरंत उनके घर भेज दिया. इस मामले में कमिश्नर ने खुद ट्वीट करके माफी मांगी है. इसके अलावा चार पुलिस कर्मियों को सस्पेंड भी किया गया.

वंदना मिश्रा कानपुर की इंडियन इंडस्ट्रीज एसोसिएशन की अध्यक्ष थीं. शाम करीब साढ़े सात बजे के करीब उनकी तबीयत खराब हुई और उन्हें तुरंत अस्पताल ले जाने का फैसला हुआ. लेकिन उसी समय महामहिम की ट्रेन ओवरब्रिज के नीचे से जाने वाली थी, इस वजह से ओवरब्रिज पर ट्रैफिक रोक दिया गया. परिजनों के कहने के बावजूद पुलिसकर्मियों ने बीमार वंदना मिश्रा की गाड़ी को जाने नहीं दिया और मौके पर ही उनकी मौत हो गई

राष्ट्रपति ने जताई नाराजगी

सर्किट हॉउस में रुके महामहिम को सुबह इस मामले की जानकारी जैसे ही हुई, उन्होंने तुरंत डीएम आलोक तिवारी और पुलिस कमिश्नर असीम अरुण को सर्किट में तलब किया. उन्होंने पुलिस द्वारा मरीज की गाड़ी रोके जाने पर नाराजगी जताई. इसके साथ अधिकारियों को निर्देश दिया कि वे मृतक वंदना मिश्रा के घर जाकर उनकी तरफ से शोक व्यक्त करें.

अब अधिकारियों ने ऐसा किया भी और बाद में वंदना मिक्षा की शव यात्रा में भी शामिल हुए. अब इस मामले में पुलिस कमिश्नर की तरफ से ट्वीट कर कहा गया है कि आने वाले समय में किसी भी वीआईपी के आने पर और ज्यादा पुख्ता इंतजाम किए जाएंगे और ट्रैफिक को भी न्यूनतम समय के लिए रोका जाएगा.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button