राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द ने मालती जोशी को पद्म पुरस्कार प्रदान

नई दिल्ली : राष्ट्रपति भवन में नागरिक चयन समारोह में राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द ने मालती जोशी को पद्म पुरस्कार प्रदान किया । वरिष्ठ लेखिका मालती जोशी को पद्मश्री अलंकरण से नवाज़ा गया. हिंदी साहित्य की वरिष्ठ लेखिका एवं लोकप्रिय कहानीकार श्रीमती मालती जोशी को मंगलवार को राष्ट्रपति ने नागरिक सम्मान पद्मश्री से अलंकृत किया. इस मौके पर मीडिया से खास बातचीत करते हुए मालती जोशी ने कहा कि यह सम्मान लोक मान्यता के समान है.

श्रीमती जोशी ने आगे कहा कि इतने अहम सम्मान से नवाज़ा जाना अपने आप में गौरवपूर्ण होता है जो निरंतर बेहतर करने की प्रेरणा भी देता है. मालती जोशी ने इस सम्मान का श्रेय पाठकों और प्रशंसकों को देते हुए कहा कि उनके कारण वह यहां तक सफर तय कर पायीं हैं.

मालती कहती हैं – “पाठकों ने ही लोकप्रियता दी और उनकी वजह से ही इस तरह की लोक मान्यता मिलना संभव हुआ है.” गौरतलब है कि इस साल जनवरी में मालती जी को पद्म सम्मान से नवाज़े जाने की घोषणा हुई थी.मालती जोशी का जन्म 4 जून 1934 को औरंगाबाद में हुआ था. उन्होंने आगरा विश्वविद्यालय से वर्ष 1956 में हिन्दी विषय से एम.ए. की पढ़ाई पूरी की . अब तक उनकी कई कहानियां, बाल कथायें व उपन्यास प्रकाशित हो चुके हैं.

मालती जोशी की कुछ कथाओं पर टीवी धारावाहिकों का निर्माण हो चुका है. हिन्दी व मराठी की विभिन्न व साहित्यिक संस्थाओं से सम्मानित मालती जी को मध्य प्रदेश हिन्दी साहित्य सम्मेलन में भवभूति अलंकरण सम्मान से विभूषित किया जा चुका है.

advt
Back to top button