प्रेस कॉन्फ्रेस महिला पत्रकार के गाल सहलाकर फंसे राज्यपाल बनवारी, हुआ विरोध तो माफ़ी मांगी

राज्यपाल ने अपनी सफाई में कहा कि उन्होंने किसी गलत उद्देश्य से महिला पत्रकार को नहीं छुआ था

तमिलनाडु: सेक्स फॉर डिग्री केस में फंसे तमिलनाडु के राज्यपाल बनवारी लाल पुरोहित ने मामले को बढ़ते देख माफ़ी मांग ली हैं. बता दे की मंगलवार को राज्यपाल पुरोहित द्वारा बुलाई गई प्रेस कॉन्फ्रेस का हैं. जहां राज्यपाल ने महिला पत्रकार के गाल को सहला दिया. जिससे की महिला पत्रकार असहज हो गई. जिसके बाद उन्होंने सोशल मीडिया पर राज्यपाल बनवारी लाल पुरोहित द्वारा इस हरकत का विरोध किया. महिला पत्रकार ने राज्यपाल इस हरकत पर सोशल मीडिया पर विरोध जताया था और इसे अव्‍यवहारिक रवैया बताया था. जिसके बाद अब राज्यपाल से महिला को खत लिखकर माफी मांग ली है.

राज्यपाल का माफ़ीनामा
राज्यपाल का माफ़ीनामा

राज्यपाल ने अपनी सफाई में कहा कि उन्होंने किसी गलत उद्देश्य से महिला पत्रकार को नहीं छुआ था. राज्यपाल की मानें तो जिस तरह बुजुर्ग एक को बच्चे को दुलार देते हैं कुछ उसी तरह पत्रकार पर अपनापन दिखाते हुए उन्होंने गाल को छुआ था. राजभवन से जारी सफाई पत्र में कहा गया कि अगर महिला पत्रकार को राज्यपाल के इस कदम से दुख पहुंचा है तो इसपर वो खेद प्रकट करते हैं और अपने किए पर माफी मांगते हैं.

महिला पत्रकार ने ट्विट कर कहा की “‘मैंने अपना चेहरा कई बार धोया, लेकिन मैं इस भाव से छुटकारा नहीं पा रही. राज्‍यपाल बनवारी लाल पुरोहित से मैं काफी गुस्‍से में हूं. ये हो सकता है आपके लिए प्रोत्‍साहन का तरीका और दादाजी जैसा रवैया हो, लेकिन मेरे लिए आप गलत हैं.”

महिला पत्रकार का ट्विट
महिला पत्रकार ने ट्विट

क्‍या है पूरा मामला?<>

बता दें की चेन्नई के एक निजी कॉलेज में एक महिला शिक्षक पर आरोप लगा हैं की उसने अपनी छात्राओं को ज्यादा नंबर और ज्यादा पैसे के लिए शारीरिक सम्बन्ध बनाने को कहा था. जिसके बाद महिला शिक्षक के खिलाफ मामला दर्ज करके गिरफ्तार कर लिया गया. इसी बीच महिला और राज्यपाल के बीच बातचीत का एक ऑडियो सामने आया था. इसी पर सफाई को लेकर राज्यपाल ने प्रेस कांफ्रेंस बुलाई थी.

Back to top button