बाबरी ढांचा गिराने पर गर्व, चुनाव आयोग ने दिया नोटिस : प्रज्ञा ठाकुर

नई दिल्ली : मध्य प्रदेश के भोपाल संसदीय क्षेत्र से भारतीय जनता पार्टी की उम्मीदवार बनाए जाने के बाद साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने एक और विवादित बयान दिया है। उनका कहना है कि बाबरी मस्जिद गिराए जाने पर उन्हें गर्व है। राम मंदिर मुद्दे को लेकर दिए बयान के बाद भोपाल जिला निवार्चन अधिकारी ने भाजपा प्रत्याशी को शनिवार को तत्काल ही नोटिस जारी कर एक दिन में जवाब पेश करने के लिए कहा है। इसके पहले जिला निवार्चन अधिकारी करकरे को लेकर दिए बयान पर भी नोटिस जारी कर उनसे एक दिन में जवाब मांगा गया है।

प्रज्ञा ठाकुर ने एक टीवी चैनल से रविवार को कहा, बाबरी मस्जिद का ढांचा गिराने का अफसोस नहीं है, ढांचा गिराने पर तो हम गर्व करते हैं। हमारे प्रभु रामजी के मंदिर पर अपशिष्ट पदार्थ थे, उनको हमने हटा दिया।

प्रज्ञा ठाकुर ने आगे कहा, हम गर्व करते हैं, इस पर हमारा स्वाभिमान जागा है, प्रभु राम जी का भव्य मंदिर भी बनाएंगे। ढांचा तोड़कर हिंदुओं के स्वाभिमान को जागृत किया है। वहां भव्य मंदिर बनाकर भगवान की आराधना करेंगे, आनंद पाएंगे।

चुनाव आयोग के नोटिस में प्रज्ञा सिंह ठाकुर के टीवी चैनल पर आए बयान का जिक्र करते हुए कहा गया है कि यह आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन प्रतीत होता है। इस संबंध में वे एक दिन में अपना स्पष्टीकरण पेश करें, अन्यथा एकपक्षीय कार्रवाई की जाएगी। नोटिस के अनुसार प्रज्ञा ठाकुर ने कहा है ‘राम मंदिर, हम बनाएंगे एवं भव्य मंदिर बनाएंगे। हम तोड़ने गए थे ढांचा, मैंने चढ़कर तोड़ा था ढांचा। इस पर मुझे भयंकर गर्व है। मुझे ईश्वर ने शक्ति दी थी। हमने देश का कलंक मिटाया है।’

ठाकुर के शनिवार को दिए बयान का एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इसमें वे कहती हुयीं सुनी जा रही हैं कि काहे का विवादित ढांचा। वह रामजी का मंदिर है। भव्य मंदिर बनाने से मुझे कोई नहीं रोक सकता है।

आपको बात दें कि भाजपा ने प्रज्ञा ठाकुर को भोपाल से उम्मीदवार बनाया है। प्रज्ञा ने इससे पहले मुंबई के एटीएस प्रमुख रहे और आतंकवादियों की गोली से शहीद हुए हेमंत करकरे पर विवादित बयान दिया था। मामले के तूल पकड़ने पर उन्होंने बयान वापस लेते हुए माफी भी मांग ली थी।

Back to top button