डोकलाम विवाद के बाद पहली बार चीन के राष्ट्रपति शी से मिले PM मोदी

दोनों नेताओं ने अंतरराष्ट्रीय परिदृश्य , ब्रिक्स सहयोग और परस्पर हित के दूसरे मुद्दों पर विचारों का आदान प्रदान किया.

नई दिल्ली: डोकलाम विवाद के बाद आज पहली बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग से मिले और दोनों नेताओं के बीच हाल में हुई बैठकों से मिली रफ्तार को बनाए रखने की जरूरत पर जोर दिया. मोदी 10 वें ब्रिक्स शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए इस समय दक्षिण अफ्रीका में हैं.

वह पिछले करीब चार महीने में शी से तीसरी बार मिले हैं. उन्होंने शी के साथ अपनी हाल की बैठकों को याद करते हुए कहा कि उनसे भारत – चीन के संबंधों को नयी मजबूती मिली है और साथ ही दोनों देशों के बीच सहयोग के लिए नये मौके भी मिले.

मोदी ने बैठक की शुरूआत में शी से कहा कि इस रफ्तार को बनाए रखना जरूरी है और इसके लिए हमें अपने स्तर पर नियमित रूप से अपने संबंधों की समीक्षा करनी चाहिए और जब भी जरूरत हो उचित निर्देश देने चाहिए.

बैठक से दोनों देशों की करीबी विकास सहभागिता को और मजबूत करने का एक और मौका मिला. प्रधानमंत्री कार्यालय ने ट्वीट किया कि भारत – चीन की दोस्ती को आगे बढ़ाते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने दक्षिण अफ्रीका में ब्रिक्स शिखर सम्मेलन से इतर बातचीत की.

समझा जाता है कि दोनों नेताओं ने अंतरराष्ट्रीय परिदृश्य , ब्रिक्स सहयोग और परस्पर हित के दूसरे मुद्दों पर विचारों का आदान प्रदान किया.

Back to top button