छत्तीसगढ़

नक्सलवाद पर बोले प्रधानमंत्री मोदी कहा “शस्त्र उठाकर जिंदगी तबाह करने की जरूरत नहीं”

PM ने भटके हुए युवाओं से की हिंसा छोड़ने की अपील

रायपुर : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने नक्सलवाद से प्रभावित भटके हुए नवजवानों से हिंसा छोड़ने और विकास की मुख्य धारा से जुड़ने का आव्हान किया है। उन्होंने आज छत्तीसगढ़ के बस्तर संभाग के ग्राम जांगला (जिला-बीजापुर) में संविधान शिल्पी बाबा साहब डॉ. भीमराव अम्बेडकर के जयंती के अवसर पर विभिन्न विकास परियोजनाओं का शुभारंभ करने के बाद विशाल जनसभा में कहा- बाबा साहब ने संविधान में आपके अधिकारों का रक्षा का पूरा ख्याल रखा है।

आपको शस्त्र उठाकर अपनी जिंदगी तबाह करने की जरूरत नहीं है। हमारे ऐसे नवजवानों को यह देखना चाहिए कि जिन लोगों ने उन्हें हिंसा के रास्ते पर धकेला है, उनका एक भी मुखिया आपके इलाके का नहीं है। वे कभी मरते नहीं है और जंगलों में सुरक्षित रहते हैं।

मोदी ने युवाओं से कहा कि वे ऐसे लोगों से दूर रहें। उन्होंने युवाओं के अभिभावकों से अपने बच्चों को समझाने का अनुरोध किया। मोदी ने कहा-मैं आपसे यह कहना चाहता हूं कि आप अपने बच्चों को उनके हाथों में न सौंपे।

सरकार आपके बच्चों की बेहतर स्कूली शिक्षा का पूरा इंतजाम कर रही है। फसलों का पूरा दाम मिले, इसके लिए भी सरकार ने सभी प्रकार के उपाय किए हैं। सुरक्षा बलों के जवान आपके इलाके में विकास कार्यों को सुरक्षा देने और आपकी सेवा के लिए आए हैं।

Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.