बड़ी खबरराजनीतिराष्ट्रीय

CAA के हर आरोप पर प्रधानमंत्री मोदी ने दिया जवाब

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने नागरिकता संशोधन कानून (CAA) पर हो रही राजनीति और हिंसा को लेकर करार जवाब दिया.

नई दिल्ली :  दिल्ली के रामलीला मैदान में बीजेपी के रैली में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने नागरिकता संशोधन कानून (CAA) पर हो रही राजनीति और हिंसा को लेकर करार जवाब दिया. कांग्रेस पर जमकर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस मुस्लिमों को गुमराह कर रही है. प्रधानमंत्री ने कांग्रेस पार्टी पर आरोप लगाया कि वह सीएए पर झूठ बोलकर अफवाह फैला रही है और मुसलमानों को डरा रही है.

मोदी ने कहा कि इस बिल के पास होने के बाद कुछ राजनीतिक दल अफवाहें फैलाने में लगे हैं. लोगों को भ्रमित किया जा रहा है, उनकी भावनाओं को भड़काया जा रहा है.

मोदी ने कहा, ‘मैं इन भ्रम फैलाने वाले, झूठ बोलने वालों से पूछना चाहता हूं कि जब मैंने दिल्ली की सैकड़ों कॉलोनियों को वैध किया तो क्या किसी से पूछा था कि आपका धर्म क्या है, आपकी आस्था क्या है, आप किस पार्टी को वोट देते हैं, आप किस पार्टी के समर्थन हैं? क्या हमने आपसे कोई सबूत मांगे थे? 70 का सबूत लाओ, 75 का सबूत लाओ, 80 का सबूत लाओ, क्या हमने मांगा था?’

प्रधानमंत्री ने कहा कि जिन लोगों के लिए यह बिल लाया जा रहा है उनमें अधिकतर दलित हैं. जो नेता खुद को दलितों का हितैषी मानते हैं वह भी इस बिल का विरोध कर रहे हैं. यह कानून महात्मा गांधी की भावना के अनुकूल है.

जो लोग महात्मा गांधी के मानते हैं, उनके नाम का झंडा उठाते हैं वह भी बिल का विरोध कर रहे हैं. कम से कम महात्मा गांधी की बातों को तो नजरअंदाज मत करो. मोदी ने कहा कि यह बिल लोगों को नागरिकता देने का है न कि लेने का. महात्मा गांधी के सपने को एनडीए सरकार पूरा कर रही है.

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह का नाम लेकर कांग्रेस पर जमकर हमला बोला. प्रधानमंत्री ने कहा कि संसद में खड़े होकर पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने बाग्लादेश के शरणार्थियों को नागरिकता देने का समर्थन किया था. आज जब एनडीए की सरकार इस मांग पूरा कर रही है तो कांग्रेस इसका विरोध कर रही है. कांग्रेस वोट बैंक के लिए राजनीति कर रही है.

प्रधानमंत्री ने कहा कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री कानून के खिलाफ यूएन जाने की बात कर रहीं हैं. जबकि पहले वह संसद में खड़े होकर बांग्लादेश से आए घुसपैठियों को भगाने की बात कहती थीं. उन्होंने ममता बनर्जी से पूछा कि बंगाल की जनता का भरोसा करो.

Tags
Back to top button