पीएम नरेंद्र मोदी पहुंचे दावोस, दुनिया को दिखाएंगे भारत की आर्थिक ताकत

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी विश्व आर्थिक मंच (WEF) की 48वीं बैठक में शिरकत करने के लिए दावोस पहुंचे हैं. पीएम मोदी ने यहां स्विट्जरलैंड के राष्ट्रपति एलेन बर्सेट से मुलाकात कर द्विपक्षीय संबंधों पर चर्चा की.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी विश्व आर्थिक मंच (WEF) की 48वीं बैठक में शिरकत करने के लिए दावोस पहुंचे हैं. पीएम मोदी ने यहां स्विट्जरलैंड के राष्ट्रपति एलेन बर्सेट से मुलाकात कर द्विपक्षीय संबंधों पर चर्चा की.

इसके बाद पीएम मोदी ने कई वैश्विक कंपनियों के मुख्य कार्यकारी अधिकारियों (सीईओ) संग हुई राउंड टेबल मीटिंग की मेजबानी की. मोदी दावोस में WEF के कार्यक्रम में शामिल होंगे और उद्घाटन भाषण देंगे.

मोदी दुनिया के सामने भारतीय अर्थव्यवस्था, यहां निवेश और अपनी नीतियों के बारे में बताएंगे. स्वीडन के प्रधानमंत्री स्टीफन लोफवेन के साथ द्विपक्षीय बैठक करने का भी PM मोदी का कार्यक्रम है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विश्व आर्थिक मंच की सालाना बैठक से इतर स्विट्जरलैंड के राष्ट्रपति एलेन बर्सेट से मुलाकात की और उनसे द्विपक्षीय संबंधों को और मजबूत बनाने के तरीकों पर चर्चा की. मोदी ने एक ट्वीट कर कहा, ‘दावोस पहुंचने पर मैंने स्विस कन्फेडरेशन के राष्ट्रपति एलेन बर्सेट से बातचीत की. हमने द्विपक्षीय सहयोग की संभावनाओं की समीक्षा की, इसे और मजबूत बनाने पर बात की.’

बर्सेट ने कहा कि यह चर्चा दुनिया के सबसे बड़े और पुराने लोकतंत्रों की मुलाकात दर्शाती है. मोदी का आभार जताते हुए स्विट्जरलैंड के राष्ट्रपति ने कहा कि वह भारत के साथ संबंध और मजबूत करना जारी रखेंगे. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने एक ट्वीट में कहा, ‘बर्फबारी के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्विस राष्ट्रपति एलेन बर्सेट से मुलाकात की.

दोनों नेताओं ने लोकतंत्र और विविधता के साझा मूल्यों पर बने हमारे द्विपक्षीय सहयेाग को और मजबूत करने के कदमों पर रचनात्मक बातचीत की.’ सूत्रों ने बताया समझा जाता है कि दोनों नेताओं ने कर सूचना के स्वत: आदान-प्रदान पर हुई प्रगति पर भी चर्चा की.

पिछली बार चीन के प्रधानमंत्री ने WEF की सालाना बैठक का उद्घाटन किया था. ये भारत की बढ़ती ताकत का ही असर है कि इस बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस कार्यक्रम की शुरुआत करेंगे. इस साल के सम्मेलन का विषय ‘क्रिएटिंग ए शेयर्ड फ्यूचर इन ए फ्रैक्चर्ड वर्ल्ड’ है.

दावोस में पिछले दो दिनों से भारी बर्फबारी हो रही है. बर्फबारी के चलते यहां भीषण जाम लग गया है. जाम में आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री भी फंस गए थे. विश्व आर्थिक मंच पर शाहरुख खान को क्रिस्टल अवॉर्ड दिया गया है. शाहरुख खान के साथ करण जौहर भी पहुंचे हैं.

21 साल के बाद ये पहला मौका है जब कोई भारतीय प्रधानमंत्री इस कार्यक्रम में हिस्सा ले रहा है. कार्यक्रम का अंत अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के भाषण के साथ होगा. पीएम मोदी मंगलवार दोपहर करीब 2.45 बजे (भारतीय समयानुसार) फोरम को संबोधित करेंगे.

दावोस जाने से ठीक पहले पीएम मोदी ने कई ट्वीट कर अपने एजेंडे के बारे में बताया. उन्होंने लिखा कि ”वह दावोस (स्विट्जरलैंड) में अपने कार्यक्रमों के दौरान अंतरराष्ट्रीय समुदाय के साथ भारत के भविष्य संबंधों पर अपना नजरिया रखेंगे.

मोदी यह भी चाहते हैं कि दुनिया के नेता मौजूदा वैश्विक प्रणालियों के समक्ष वर्तमान तथा नयी उभर रही चुनौतियों पर ‘ गंभीरता से ध्यान दें.’.

1
Back to top button