प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज जोधपुर मे सर्जिकल स्ट्राइक प्रदर्शनी का करेंगे उद्धघाटन

दूसरी प्रदर्शनी के दौरान युद्ध स्मारक पर जाकर शहीदों को श्रद्धांजलि देंगे

नई दिल्ली :

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज (शुक्रवार) को राजस्थान के लिए रवाना होंगे । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वहाँ 2016 की सर्जिकल स्ट्राइक की दूसरी प्रदर्शनी के दौरान युद्ध स्मारक पर जाकर शहीदों को श्रद्धांजलि देंगे।

एशिया के सबसे बड़े डिफेन्स बेस जोधपुर से मोदी पाक को बड़ा संदेश देने जा रहे है। मोदी सुबह 9 बजे से 3 बजे तक जोधपुर के तीनों सेनाओं के साथ जॉइंट कॉन्फ्रेंस में संबोधित करेंगे।

सैन्य सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, मोदी सुबह 9 बजे जोधपुर डिफेन्स एयरपोर्ट पर उतरेंगे और वहां से वे सीधा मिलिट्री स्टेशन पर लगने वाली सर्जिकल स्ट्राइक प्रदर्शनी का उद्धघाटन करेंगे।

उद्घाटन के बाद पीएम सर्जिकल स्ट्राइक प्रदर्शनी का अवलोकन कर सीधे कोणार्क कोर स्थित युद्ध स्मारक पर वीर शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित करने पहुंचेंगे।

पाकिस्तान बॉर्डर पर 4 जगह लगेगी सर्जिकल स्ट्राइक प्रदर्शनी

केंद्र सरकार भारतीय सेना द्वारा पाकिस्तान स्थित आतंकी ठिकानों पर की गई सर्जिकल स्ट्राइक की दूसरी सालगिरह मना रही है। पाक बॉडर्र से सटे जोधपुर,जैसलमेर,अहमदाबाद और भुज में सर्जिकल स्ट्राइक प्रदर्शनी लगाई जा रही है। इसे पराक्रम पर्व का नाम दिया गया है।

इस प्रदर्शनी को 29 और 30 सितंबर को आमलोग भी देख सकेंगे। प्रदर्शनी में सेना के हथियार और अन्य उपकरण प्रदर्शित किए जाएंगे।

जोधपुर एयरफोर्स बेस पर पहली कमांडर कॉन्फ्रेंस

देश में 2015 तक कमांडर कॉन्फ्रेंस दिल्ली में ही आयोजित होती थी। लेकिन पीएम मोदी ने 2016 में यह कॉन्फ्रेंस दिल्ली से बाहर सैन्य क्षेत्र के पोत आईएनएस विक्रमादित्य और 2017 में देहरादून स्थित इंडियन मिलट्री एकेडमी में शुरू करवाई।

इसके बाद पहली बार एशिया के सबसे बड़े एयर बेस पर यह कॉन्फ्रेंस आयोजित हो रही है। कमांडर में पीएम मोदी, रक्षा मंत्री सीतारमण, राष्ठीय सुरक्षा सलाहकार और तीनो सेनाओं के प्रमुख शिरकत करेंगे।

देश की रक्षा तैयारी पर होगा मंथन

पीएम मोदी और रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण तीनों सेनाओं के प्रमुख से ऑपरेशनल तैयारियों पर चर्चा करेंगें। पीएम मोदी तीनों सेनाओं की सयुक्त कमान की युद्ध की तैयारियों को लेकर कमांडर्स से बात करेंगे।

मौजूदा हालात में चीन औरपाकिस्तान की सामरिक तैयारियों, विश्व के मौजूदा हालात, महाशक्तियों की ऑपरेशनल तैयारियों के बारे में चर्चा करेंगे। साथ ही, इस कॉन्फ्रेंस में सेनाओं में हथियारों की कमी, नए हथियारों की खरीद, उनकी प्रक्रिया जल्दी शुरू करने और सभी प्रोजेक्ट में तेजी लाने को लेकर कमांडर्स पीएम को अवगत कराएंगे।

पीएम मोदी भी रक्षा को लेकर आने वाले दिनों में देश की क्या दिशा होगी इस पर अपना रुख सेनाओं के सामने रखेंगे ।

Back to top button