छत्तीसगढ़

इस्पात नगरी भिलाई में गरीब श्रमिक परिवारों को मिलेंगे प्रधानमंत्री आवास

-मुख्यमंत्री ने केन्द्रीय इस्पात मंत्री चौधरी वीरेन्द्र सिंह से की मुलाकात

रायपुर:

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने नई दिल्ली में केन्द्रीय इस्पात मंत्री चौधरी वीरेन्द्र सिंह से मुलाकात की। उन्होंने श्री सिंह को छत्तीसगढ़ के भिलाई स्टील प्लांट के ठेका श्रमिकों (एचएसटीएल) के नियमितिकरण और टाऊनशिप में प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत गरीब परिवारों के मकान निर्माण के लिए जमीन आवंटित करने का आग्रह करते हुए ज्ञापन सौंपा। इस अवसर पर छत्तीसगढ़ के उच्च शिक्षा और राजस्व मंत्री प्रेमप्रकाश पांडे भी उपस्थित थे ।

मुख्यमंत्री ने केन्द्रीय मंत्री को बताया कि भिलाई स्टील प्लांट में 1979 से कार्यरत एच.एस.टी.एल. श्रमिकों से स्थायी श्रमिकों की तरह ही सारा कार्य लिया जा रहा है । दुर्गापुर , राउरकेला और बोकारो आदि इस्पात संयंत्रों में ऐसे श्रमिकों को स्थायी किया जा चुका है, लेकिन भिलाई इस्पात संयंत्र में यह मामला अभी लंबित है ।

उन्होंने श्री वीरेन्द्र सिंह से ऐसे श्रमिकों को नियमित करने का आग्रह किया। बैठक में प्रेम प्रकाश पांडे ने बीएसपी टाउनशिप में आवास विहीन गरीब परिवारों के लिए प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 10 एकड़ भूमि आवंटन कराने का आग्रह भी किया।

उन्होंने कहा कि आवंटित होने वाली भूमि पर पहले से ही निवासरत लेकिन सुविधाविहीन निर्धन रहवासियों को मकान बनवा कर दिए जायेंगे। केन्द्रीय मंत्री ने इस पर सकारात्मक रूख दिखाते हुए कहा कि इस संबंध में अगले सप्ताह ही वह राज्य सरकार और बीएसपी प्रबध्ंान की एक बैठक बुलाकर निर्णय करेंगे।

बैठक में बीएसपी क्षेत्र में सामाजिक संगठनों की लीज के नवीनीकरण, शासकीय महाविद्यालय खुर्सीपार की भूमि के आवंटन और व्यापारियों के प्रापर्टी टैक्स के बारे में भी चर्चा की गयी। बैठक में मुख्यमंत्री के सचिव सुबोध कुमार सिंह, आवासीय आयुक्त संजय ओझा, मुख्यमंत्री के सलाहकार विक्रम सिसोदिया, और विशेष कर्त्तव्यस्थ अधिकारी अरूण बिसेन भी उपस्थित थे ।

Summary
Review Date
Reviewed Item
इस्पात नगरी भिलाई में गरीब श्रमिक परिवारों को मिलेंगे प्रधानमंत्री आवास
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags
jindal