राज्य

वैलंटाइंस डे पर टीचर ने किया 8वीं की छात्रा को प्रपोज, गिरफ्तार

जिला शिक्षा अधिकारी ने बताया, 'निर्मल ने कक्षा आठ की छात्रा को गुलाब देकर सभी स्टूडेंट्स के सामने क्लास में अपने प्यार को व्यक्त करते हुए प्रपोज किया

वैलंटाइंस डे पर टीचर ने किया 8वीं की छात्रा को प्रपोज, गिरफ्तार

तमिलनाडु के विल्लुपुरम जिले स्थित एक सरकारी स्कूल में 43 साल के एक अध्यापक को आठवीं की छात्रा को प्रपोज करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। घटना 14 फरवरी (वैलंटाइंस डे) की है। बताया जा रहा है कि आरोपी अध्यापक ने गुलाब का फूल देकर स्टूडेंट को प्रपोज किया था।
[responsivevoice_button voice=”Hindi Female” buttontext=”अगर आप पढ़ना नहीं
चाहते तो क्लिक करे और सुने”]
प्रपोजल ठुकराने के बाद छात्रा को दोबारा अपने फैसले पर विचार करने के लिए दबाव बनाने के आरोप में पुलिस ने सहअध्यापक फिजिकल एजुकेशन टीचर को भी गिरफ्तार किया है। आरोपियों की पहचान टीचर एम निर्मल प्रेमकुमार और उनके साथी एस लॉरेंस (31) के रूप में हुई है। दोनों शादीशुदा हैं और उनके बच्चे हैं।

जिला शिक्षा अधिकारी ने बताया, ‘निर्मल ने कक्षा आठ की छात्रा को गुलाब देकर सभी स्टूडेंट्स के सामने क्लास में अपने प्यार को व्यक्त करते हुए प्रपोज किया। लड़की ने गुलाब लेने से इनकार करते हुए प्रस्ताव ठुकरा दिया। इसके बाद निर्मल ने अपने हाथ ने छात्रा को जबर्दस्ती फूल देने की कोशिश की। घटना के बाद से छात्रा ने आरोपी अध्यापक से बातचीत बंद कर दी।’

अधिकारी के मुताबिक, इसके बाद अध्यापक ने अपने साथी से लड़की को मनाने और किसी और से यह बात न बताने के लिए कहा। फिर लॉरेंस ने छात्रा पर निर्मल का प्रस्ताव स्वीकारने के लिए दबाव बनाया। यहां तक कि लॉरेंस ने छात्रा को धमकी दी कि अगर प्रपोजल नहीं माना और यह बात किसी और से बताई तो वह अपनी पढ़ाई आगे जारी नहीं रख सकेगी।

पैरंट्स ने स्कूल के सामने किया था प्रदर्शन
हालांकि इसके बाद भी छात्रा ने अपने टीचर की बात मानने से इनकार कर दिया। इस घटना से उदास छात्रा के पैरंट्स को जब यह बात पता चली तो उन्होंने अपने संबंधियों के साथ मिलकर स्कूल के सामने आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग करते हुए प्रदर्शन किया। उन्होंने पुलिस के अलावा जिला शिक्षा अधिकारी के सामने भी शिकायत दर्ज करवाई।

एक अधिकारी ने बताया, ‘सोमवार को शिक्षा विभाग ने मामले की जांच का आदेश किया और आरोपी अध्यापकों की निलंबन के तहत लंबित पूछताछ हुई।’ छात्रा के अभिवावक ने महिला पुलिस स्टेशन कल्लाकुरुची में शिकायत लिखवाई थी जिसके बाद निर्मल पर पोक्सो ऐक्ट की धारा 11 (यौन उत्पीड़न) और धारा 12( यौन उत्पीड़न के लिए सजा) के तहत मामला दर्ज हुआ। वहीं लॉरेंस पर पोक्सो की धारा 17 के तहत मामला दर्ज हुआ। दोनों को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।

Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *