छत्तीसगढ़

जनहित से जुड़े प्रकरणों को तत्परता से हल करने को प्राथमिकता देवें अधिकारीगण: संतराम नेताम

जनभावनाओं के हितो का ध्यान रखना जनप्रतिनिधि एवं अधिकारियों का संयुक्त दायित्व

राज शार्दूल

कोण्डागांव।

अधिकारियों एवं जनप्रतिनिधियों को जनसामान्य के हितो को ध्यान में रखते हुए अपने जिम्मेदारियों को निर्वहन करना होगा, क्योंकि दोनो एक दूसरे के पूरक है। इस क्षेत्र की सर्वोच्च आवश्यकता जैसे – शिक्षा, स्वास्थ्य, आवागमन, विद्युत, पेयजल जैसी मूलभूत सुविधाओं को हर ग्राम पंचायतों तक पहुंचाना, शासन की प्राथमिकता में है।

उक्ताशय के विचार विधानसभा केशकाल विधायक माननीय संतराम नेताम ने केशकाल के तहसील कार्यालय सभाकक्ष में जिला स्तरीय अधिकारियों की बैठक में कहा। बैठक के दौरान सभी विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी, जिले में पदस्थ तहसीलदार, सीईओ जनपद पंचायत और नगरीय निकायों के सीएमओ मौजूद थे।
इस क्रम में उन्होंने आगे कहा कि ‘नरवा, घुरवा, गरुवा और बाड़ी राज्य शासन के विकास के मूल भावना का केन्द्र बिन्दु है, अतः उस पर सभी विभाग अमल करे।

इस दौरान विधायक ने बैठक में विभिन्न विभागीय गतिविधियों की जानकारी ली तथा अधिकारियों को निर्देशित किया कि आम जनता को मूलभूत सुविधाओं की सुलभता सहित लोक सेवाओं की उपलब्धता हेतु सार्थक पहल किया जाये।

इसके साथ ही उन्होंने उचित मूल्य दुकानों से खाद्यान्न एवं सामग्री की उपलब्धता,आंगनबाड़ी केन्द्रों में लक्षित बच्चों एवं माताओं को समेकित बाल विकास सेवाओं की सुलभता,स्वास्थ्य केन्द्रों पर स्वास्थ्य सेवाओं, आश्रम-छात्रावासों सहित आवासीय विद्यालयों की आवश्यक व्यवस्था सुनिश्चित करने, नामातंरण-बंटवारा,सीमाकंन ईत्यादि राजस्व प्रकरणों को समय-सीमा में निराकृत करने हेतु अधिकारियों को निर्देश दिया।

क्षेत्र में कृषि तथा कृषि की आनुशांगिक गतिविधियों उद्यानिकी,मत्स्यपालन एवं पशुपालन से ग्रामीणों को लाभान्वित करने पर जोर देते हुए उन्होंने अधिकारियों को कहा कि इन आयमूलक गतिविधियों के जरिये ग्रामीणों और किसानों की आमदनी वृद्वि के लिए सार्थक प्रयास किया जाना चाहिए।

इस समीक्षा बैठक में माननीय विधायक द्वारा विधानसभा क्षेत्र के ग्राम बिंझे और कानागांव के स्वास्थ्य केन्द्र के अधूरे भवन, ग्राम आमागुहान में सड़क निर्माण, ग्राम जंगलबाड़ा में पेयजल की सुविधा उपलब्ध कराने के संबंध में संबंधित विभाग के अधिकारियों को तत्काल कार्यवाही करने को कहा।

बैठक के पूर्व जिला कलेक्टर नीलकंठ टीकाम ने जिले के समस्त अधिकारियों का सामान्य परिचय कराते हुए माननीय विधायक संतराम नेताम को अवगत कराया कि जिले में शासन की कर्जमाफी योजना के अंतर्गत 28 हजार कृषको के ऋणमाफ कर दिए गए है। पूर्व में धान खरीदी करने वाले कृषको के बैंक खातो में नौ करोड़ की राशि जमा कर दी गई है।

Tags
Back to top button