कांग्रेस ने नियुक्ति के एक दिन बाद ही हटवा दिया अपना सचिव, जाने पूरा मामला

प्रियंका गांधी ने की थी हटाने की मांग

नई दिल्ली: कांग्रेस ने उत्तर प्रदेश में दोनों प्रभारी महासचिवों प्रियंका गांधी वाड्रा और ज्योतिरादित्य सिंधिया के सहयोग के लिए मंगलवार रात तीन-तीन सचिव नियुक्त किए। जिसके बाद बिहार में पेपर लीक की एक पुरानी घटना में संलिप्तता को लेकर उठते सवालों के बीच उन्होंने अपने सचिव कुमार आशीष को हटवा दिया. कांग्रेस ने यह कदम उनके अनुरोध पर किया.

अब प्रियंका के साथ जुबैर खान, बाजीराव खाडे और सचिन नायक़ सचिव की जिम्मेदारी संभालेंगे. सिंधिया के सहयोग के लिए राणा गोस्वामी, धीरज गुर्जर और रोहित चौधरी को सचिव बनाया गया है. गौरतलब है कि गत 23 जनवरी को प्रियंका गांधी कांग्रेस महासचिव-प्रभारी (पूर्वी उत्तर प्रदेश) और ज्योतिरादित्य सिंधिया को महासचिव-प्रभारी (पश्चिमी उत्तर प्रदेश) नियुक्त किया गया था. प्रियंका को 41 और सिंधिया को 39 लोकसभा सीटों की जिम्मेदारी सौंपी गई है.

वर्ष 2005 में बिहार में एक परीक्षा के प्रश्नपत्र लीक करने में कुमार आशीष का नाम आया था. इस मामले में गिरफ्तारी के बाद कुमार आशीष को पार्टी से निकाल दिया गया था. बाद में आशीष ने फिर से पार्टी ज्वॉइन कर बिहार में चुनाव भी लड़ा.

उधर, जब आशीष की पेपर लीक के मामले में भूमिका की खबर प्रियंका गांधी के कानों में पहुंचीं तो उन्होंने पार्टी अध्यक्ष से उनकी जगह पर किसी दूसरे शख्स को सचिव बनाने की मांग की. जिसके बाद पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी ने उनके स्थान पर सचिन नायक की नियुक्ति की.

Back to top button